रियाद, एएनआइ। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने सऊदी अरब में आज क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने जम्मू-कश्मीर पर भारत का पक्ष रखते हुए कश्मीर पर भारत के दृष्टिकोण और कार्रवाई के बारे में गहन चर्चा की। एनएसए डोभाल  मंगलवार को सऊदी अरब के दौरे पर रियाद पहुंचे हैं। इसके अलावा एनएसए अजित डोभाल ने सऊदी अरब के अपने समकक्ष के साथ भी मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान उन्होंने राष्ट्रीय और क्षेत्रीय सुरक्षा के मुद्दों पर चर्चा की।

एनएसए अजित डोभाल की सऊदी क्राउन प्रिंस से मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब इमरान खान ने कुछ दिनों पहले ही कश्मीर मुद्दे पर सऊदी अरब का समर्थन हासिल करने की कोशिश की थी और अपने सऊदी दौरे पर उन्होंने इसकी कोशिश हुई। 

अजित डोभाल की यह यात्रा भारत-सऊदी अरब के संबंधों पर आधारित है और यह दौरा बता रहा है कि भारत, सऊदी को अपना कितनी करीबी देश मानता है और इसलिए वह जम्मू कश्मीर पर अपने फैसले को पूरी तरह से सऊदी के सामने निष्पक्षता से रखना चाहता है। एनएसए अजित डोभाल इसलिए भी अहम हैं क्योंकि उन्होंने आर्टिकल 370 पर सरकार के फैसले को जमीन पर उतारने का काम किया।

बता दें, जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाहट में है। पाकिस्तान, भारत के इस फैसले के खिलाफ पूरी दुनिया में समर्थन जुटाता रहा लेकिन उसे चीन के अलावा ज्यादातर देशों का समर्थन नहीं मिला। चीन के साथ तुर्की और मलयेशिया ही दो ऐसे देश रहे जिनका समर्थन पाकिस्तान को मिल पाया। सऊदी अरब ने इस मामले पर पाकिस्तान को समर्थन नहीं दिया। हालांकि वह इस मसले पर तटस्थ की भूमिका में रहा है। 

कश्मीर मसले पर पाकिस्तान को ज्यादातर बड़े मंचों पर मुंह की खानी पड़ी है। चाहे वो UNHRC हो, UNGA हो। UN के कई मंचों पर पाकिस्तान के झूठ को बेनकाब करते हुए भारत ने उसे मुंहतोड़ जवाब दिया है। हाल ही में UNGA के सत्र में भी पाकिस्तान को भारत के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। 

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप