Move to Jagran APP

Israel Hamas War: हमास ने गाजा में स्थायी युद्धविराम की शर्त छोड़ी, इजरायली बंधकों को रिहा करने को तैयार

हमास ने छह हफ्ते के अस्थायी युद्धविराम की अमेरिकी प्रस्ताव की शर्त को मान लिया है। इसी दौरान इजरायली बंधकों और फलस्तीनी कैदियों की रिहाई के संबंध में वार्ता होगी। एक फलस्तीनी अधिकारी ने कहा है कि अब गेंद इजरायल के पाले में है। उसे नौ महीने से चले आ रहे गाजा युद्ध को रोकने के बारे में फैसला लेना है हमास इजरायली बंधकों की रिहाई के लिए तैयार है।

By Agency Edited By: Jeet Kumar Sun, 07 Jul 2024 06:00 AM (IST)
हमास ने छह हफ्ते के अस्थायी युद्धविराम की अमेरिकी प्रस्ताव की शर्त को मान लिया है

 रॉयटर, काहिरा। हमास ने गाजा में स्थायी युद्धविराम की अपनी मांग छोड़ दी है और वह अस्थायी युद्धविराम के बीच इजरायली बंधकों को रिहा करने को तैयार है। हमास के अधिकारियों ने कहा है कि अमेरिका के शांति प्रस्ताव को स्वीकार करने पर संगठन सहमत है। इस बीच इजरायल के ताजा हमलों में 29 फलस्तीनियों के मारे जाने की सूचना है। इनमें पांच स्थानीय पत्रकार भी शामिल हैं। इन्हें मिलाकर गाजा युद्ध में मरने वाले पत्रकारों की संख्या 158 हो गई है।

अब गेंद इजरायल के पाले में

सूत्रों के अनुसार हमास ने छह हफ्ते के अस्थायी युद्धविराम की अमेरिकी प्रस्ताव की शर्त को मान लिया है और इसी दौरान इजरायली बंधकों और फलस्तीनी कैदियों की रिहाई के संबंध में वार्ता होगी। एक फलस्तीनी अधिकारी ने कहा है कि अब गेंद इजरायल के पाले में है। उसे नौ महीने से चले आ रहे गाजा युद्ध को रोकने के बारे में फैसला लेना है, हमास इजरायली बंधकों की रिहाई के लिए तैयार है।

बेंजामिन नेतन्याहू की प्रतिक्रिया आना बाकी

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने अभी इस पर कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की है। इससे पहले वह गाजा में हमास को खत्म करने के बाद ही सैन्य कार्रवाई रोकने की बात कहते रहे हैं। इधर, अमेरिका में बाइडन प्रशासन की कोशिश है कि गाजा में जल्द से जल्द युद्ध रुक जाए और इजरायली बंधकों की रिहाई हो जाए जिससे नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए सत्तारूढ़ डेमोक्रेटिक पार्टी की स्थिति मजबूत हो सके।

गाजा में इजरायली सेना के हमले जारी हैं। मिस्त्र सीमा पर बसे शहर रफाह में भीषण लड़ाई चल रही है। शनिवार को इन हमलों में 29 लोग मारे गए और 100 लोग घायल हुए। इन्हें मिलाकर बीते नौ महीनों में इजरायली हमलों में कुल 38,098 फलस्तीनी मारे गए हैं।

गाजा स्कूल पर इजरायली हमले में 16 लोग मारे गए

शनिवार को मध्य गाजा में विस्थापित फिलिस्तीनी परिवारों को आश्रय देने वाले एक स्कूल पर इजरायली हमले में कम से कम 16 लोग मारे गए। इसकी जानकारी फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी। वहीं, इस हमले को लेकर इजरायल ने कहा कि उसने हमले में आतंकवादियों को निशाना बनाया था। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अल-नुसीरात में स्कूल पर हुए हमले में कम से कम 16 लोग मारे गए और 50 से अधिक घायल हो गए।

कई घायलों की हालत गंभीर

इज़रायली सेना ने कहा कि उसने नागरिकों के लिए जोखिम को कम करने के लिए सावधानी बरतने के बाद, आसपास के क्षेत्र में सक्रिय बंदूकधारियों को निशाना बनाया। गाजा सिविल इमरजेंसी सर्विस के प्रवक्ता महमूद बसल ने एक बयान में कहा कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कई घायलों की हालत गंभीर है। उन्होंने कहा, इलाके में कोई भी जगह उन परिवारों के लिए सुरक्षित नहीं है जो आश्रय की तलाश में अपने घर छोड़ देते हैं।