तेहरान, आइएएनएस। अभी-अभी भारत की राजधानी दिल्‍ली में हवा में घुले जहर के कारण स्‍कूल कई दिनों तक बंद थे और अब ईरान में भी वायु प्रदूषण का कहर देखने को मिल रहा है। इस कारण यहां के तमाम शिक्षण संस्‍थानों को शनिवार को बंद रखने का आदेश दिया गया।

सिन्‍हुआ के अनुसार, शनिवार को तमाम शिक्षण संस्‍थानों को बंद कर दिया गया। भारी वायु प्रदूषण के कारण तेहरान के डिप्‍टी गर्वनर को शुक्रवार को यह घोषणा करनी पड़ी।

तेहरान प्रांत के वायु प्रदूषण जांच समिति ने कारों पर प्रतिबंध लगाने के साथ लोगों को पार्क व हरे भरे जगहों में सामूहिक गतिविधि में शामिल नहीं होने की सलाह दी है। 12 मिलियन जनसंख्‍या वाले तेहरान में वायु प्रदूषण खतरनाक स्‍तर पर पहुंच गया है। राजधानी के ऊपर आसमान में धुंध है। भारी ट्रैफिक, फैक्‍ट्री प्रदूषण और हवा व बारिश की कमी के कारण हवा की क्‍वालिटी और खराब हो गई है। कारज, इसफाहन और उर्मेया जैसे अन्‍य शहरों में भी हवा की गुणवत्‍ता गिरती जा रही है।

देश की सरकार और संसद ने इसमें सुधार के लिए कई प्रयास किए हैं जैसे शहर के ट्रैफिक पर पाबंदी लागू किया, सुरक्षित इंधन के इस्‍तेमाल का आदेश दिया साथ ही पुरानी कारों को बदलने का आग्रह किया।

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप