तेहरान, एएनआइ। ईरान में तेल की बढ़ी कीमतों को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है। इस प्रदर्शन के शुरू होने के बाद से अबतक इस प्रदर्शन में 36 लोगों की मौत हो चुकी है। अल अरबिया के मुताबिक ईरानी सुरक्षाबलों ने तेहरान के शहीद चौक पर प्रदर्शन के दौरान  भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे।

रविवार को ईरान के वरिष्ठ नेता अयातुल्ला अली खामेनेई ने देश में चल रहे विरोध के बावजूद ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के सरकार के फैसले का समर्थन किया। अनादोलु एजेंसी के मुताबिक खामेनेई ने ईरानी मीडिया के हवाले से कहा, 'मैं इसका विशेषज्ञ नहीं हूं, लेकिन मैंने पहले ही यह दावा किया था कि मैं तीन शाखाओं [विधायी, न्यायपालिका, प्रशासनिक के प्रमुखों के फैसले को वापस लूंगा।'

बता दें, ईरान सरकार द्वारा पेट्रोल की राशनिंग पर प्रतिबंध लगाने और ईंधन के दाम बढ़ाने के बाद शुक्रवार को पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हुए। खामेनेई ने सरकार से लोगों की आर्थिक चिंताओं को दूर करने के लिए हर संभव कदम उठाने का भी आह्वान किया। उन्होंने कहा 'अधिकारियों को गैस राशनिंग  योजना पर लोगों की चिंताओं को कम करने के लिए अपनी सभी क्षमताओं का उपयोग करना चाहिए।'

ईरान मेंं विरोध प्रदर्शन जारी

सरकार द्वारा पेट्रोल की राशनिंग पर प्रतिबंध लगाने और उसके ईंधन के दाम बढ़ाने के बाद शुक्रवार को पूरे ईरान में विरोध प्रदर्शन हुए। अधिकारियों के अनुसार, नई ईंधन नीति, जिसमें कीमतों में कम से कम 50 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है, गरीबों की मदद करने के लिए धन मुक्त करेगी।

ट्रंप ने लगाए थे आरोप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा तेहरान के साथ 2015 के परमाणु समझौते से बाहर निकलने के बाद, ईरान पिछले साल अमेरिकी प्रतिबंधों के पुनर्मिलन से कड़ा हो गया है।

ईरान की मुख्य बातें

सरकार द्वारा पेट्रोल राशन पर प्रतिबंध लगाने और ईंधन की कीमत बढ़ाने के बाद शुक्रवार को ईरान में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए।

अधिकारियों के अनुसार गरीबों की मदद करने के लिए पैसे मुफ्त होंगे।

नई ईंधन नीति में कीमतों में कम से कम 50 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप