नजफ, एएनआइ। इराक के दक्षिणी शहर नजफ में प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया और प्रदर्शनकारियों ने ईरानी कंसुलेट (वाणिज्‍य दूतावास) में आग लगा दी। इसके बाद गुस्‍साए इराकी सुरक्षाबलों ने प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग शुरू कर दी जिसमें 14 लोगों की मौत हो गई।

इससे पहले प्रदर्शनकारियों के साथ झड़प में 47 पुलिसकर्मी जख्‍मी हो गए। यह जानकारी नजफ के गर्वनर लुआय यासिरी ने बुधवार को अल अरबिया को दी थी। सुरक्षाबलों व प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प को देखते हुए बुधवार को क्षेत्र में कर्फ्यू लागू किया गया था। स्‍पूतनिक को प्राप्‍त जानकारी के अनुसार, इस हिंसा में 80 लोग घायल हुए थे।   

बता दें कि यह प्रदर्शन इराकी सरकार के विरोध में किया जा रहा था जिसके हिंसक हो जाने के बाद प्रदर्शनकारियों ने ईरानी वाणिज्य दूतावास में आग लगा दी। यासिरी ने बताया, 'अब तक 47 जवान जख्‍मी हो चुके हैं।' उन्‍होंने आगे बताया कि आग बुझाने में दमकलकर्मी अभी भी जुटे हुए हैं। पुलिस को इस बात का निर्देश दिया गया है कि प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए वे हथियार का इस्तेमाल न करें। अक्‍टूबर के शुरुआत से ही दक्षिणी इराक प्रदर्शन के कारण परेशान है। 

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जिसका विरोध वे कर रहे हैं ईरान उसका ही साथ दे रहा है। प्रदर्शन के शुरुआत के बाद से अब तक 350 से अधिक लोग मारे गए और करीब 15,000 लोग घायल हैं। 

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस