टोक्यो, द न्यूयॉर्क टाइम्स। शक्तिशाली तूफान हेगिबिस शनिवार की शाम जापान की राजधानी टोक्यो से टकरा गया। इसके चलते आसपास के क्षेत्रों में सर्वोच्च स्तर की चेतावनी जारी की गई है। 73 लाख से ज्यादा लोगों को जल्द से जल्द सुरक्षित स्थान पर पहुंचने को कहा गया है। टोक्यो से टकराने से पहले ही आंधी व मूसलधार बारिश के रूप में तूफान का असर देखने को मिल गया था। चिबा क्षेत्र में आंधी के चलते गाड़ी पलटने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। तीस लोग घायल भी हुए हैं, जिनमें से चार की हालात गंभीर है।

तूफान के टकराने से ठीक पहले चिबा में 5.7 तीव्रता के भूकंप का झटका भी महसूस किया गया। कई जगह भूस्खलन की घटनाएं भी सामने आए हैं। इसकी चपेट में आने से दो लोग लापता हो गए हैं। टोक्यो, कानगवा व शिजुका में 30 से ज्यादा नदियों का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर गया है, जिसके चलते इन क्षेत्रों में भीषण बाढ़ आने की भी आशंका है।

छह दशक का सबसे शक्तिशाली तूफान होने की आशंका

मौसम वैज्ञानिकों ने शुक्रवार को आशंका जताई थी कि हेगिबिस पिछले छह दशकों में टोक्यो से टकराने वाला सबसे भीषण तूफान हो सकता है। इससे पहले 1958 में आए कानगवा तूफान में हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी। हेगिबिस तूफान के चलते हवाएं अब भी 216 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हैं।

हजार से ज्यादा उड़ानें रद

तेज बारिश, आंधी व भूकंप के साथ हेगिबिस ने जापान को अपनी चपेट में लिया है। 24 घंटे में कांगावा क्षेत्र में 27.6 इंच बारिश दर्ज की गई। तूफान के कारण शनिवार को रग्बी विश्वकप के दो मैचों को भी रद करना पड़ा। उद्योग मंत्रालय के अनुसार तीस हजार से ज्यादा घरों की बिजली गुल है। तूफान की वजह से परिवहन और विद्युत आपूर्ति सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं। हजार से ज्यादा उड़ानों को रद किया जा चुका और कई ट्रेनें निलंबित कर दी गई है। दुकानों व फैक्टि्रयों को भी बंद कर दिया गया है। आपदा से संबंधित सूचनाएं प्रसारित करने के लिए देश के रक्षा मंत्रालय ने एक ट्विटर अकाउंट भी बनाया है।

तूफान के लिहाज से संवेदनशील है जापान

भूकंप व तूफान के लिहाज से जापान बेहद संवेदनशील है। हर साल यहां करीब 20 तूफान आते हैं। एक महीने पहले आए फक्साई तूफान के चलते टोक्यो के आसपास खासकर चिबा में भारी तबाही हुई थी। तूफान में वहां दो की मौत हो गई और तीस हजार घर क्षतिग्रस्त हुए थे।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस