बीजिंग, एजेंसी। अधिकारियों ने कहा कि चीन में रहस्यमयी वायरस से एक दूसरे व्यक्ति की भी मौत हो गई है। वहीं, बताया गया कि इससे दर्जनों लोग प्रभावित हुए हैं। इसका असर दो अन्य एशियाई देशों में भी दिखाई दे रहा है।स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि वुहान में बुधवार को एक 69 वर्षीय व्यक्ति की मृत्यु हो गई। बता दें कि चीनी शोधकर्ताओं का कहना है कि उन्होंने एक बीमारी के पीछे एक नए वायरस की पहचान की है जिसने पूरे एशिया में दर्जनों लोगों को संक्रमित किया है। चीन और अन्य जगहों पर स्वास्थ्य अधिकारी यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि इस नए वायरस का प्रकोप कुछ और अधिक गंभीर न हो जाए। हालांकि, इसमें दो लोग जान गंवा चुके हैं।

चीन में शोधकर्ताओं ने एक नए वायरस कोरोनोवायरस को प्रारंभिक रूप से पहचाना है, एक के पीछे रोगज़नक़ के रूप में रहस्यमय, न्यूमोनियलाइक बीमारी जिसने वुहान शहर में दर्जनों लोगों को बीमार किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि नया कोरोनावायरस पिछले मानव कोरोनवीरस से अलग है। कोरोनावीरस वायरस का एक बड़ा परिवार है जो जानवरों और लोगों को संक्रमित करता है।

रहस्‍यमयी वायरस के बारे में अंदेशा जताया जा रहा है कि यह गंभीर सांस की बीमारी या Sars से जुड़ा है। आपको बता दें कि वर्ष 2002-03 में चीन से शुरू हुए घातक फ्लू जैसे Sars वायरस के कारण दुनिया में 700 से अधिक लोग मारे गए।

वुहान पुलिस ने बताया कि बिना वेरिफिकेशन के इंटरनेट पर अफवाह व झूठी खबर फैलाने के मामले में 8 लोगों को दंड दिया गया। चीन ने इस रहस्‍यमयी वायरल न्‍यूमोनिया के लिए जांच की प्रक्रिया लांच की है जिसके कारण वुहान में दर्जनों लोग संक्रमण का शिकार हो गए हैं।

अभी कुछ दिन पहले वुहान स्‍वास्‍थ्‍य आयोग ने बताया कि इस बीमारी के कारणों का पता लगाया जा रहा है। इसकी वेबसाइट पर जारी बयान में कहा गया कि इसने इंफ्लूएंजा, एवियन इंफ्लूएंजा और सामान्‍य सांस की बीमारियों की जांच की है। हालांकि इसमें कहीं भी Sars का जिक्र नहीं है।

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस