बीजिंग, एएफपी। चीन के नियंत्रण वाले हांगकांग में चल रहे प्रदर्शन को देखते हुए एक बार फिर इस तरह की आशंकाओं को बल मिलना शुरू हो गया है कि क्या चीन हांगकांग में भी थ्येनआनमन जैसे संहार को दोहरा सकता है? बता दें कि हांगकांग में चल रहा प्रदर्शन इन दिनों इतना तीव्र हो गया है कि उससे चीन बेहद परेशान हो गया है।

विश्लेषक मानते हैं कि हांगकांग को लेकर चीन निरंतर घिरता जा रहा है। विश्लेषकों को लगता है कि आज के दौर में जो आर्थिक और राजनीतिक हालात हैं उनमें ऐसा लगता नहीं कि चीन हांगकांग में प्रदर्शनकारियों का दमन करने के लिए थ्येनआनमन जैसी कार्रवाई कर सकता है। चीन लगातार प्रदर्शनकारियों को धमका रहा है। उन्हें गंभीर परिणाम की चेतावनी दे रहा है। कह रहा है कि आग से मत खेलो, नहीं तो जल जाओगे। इसके बावजूद प्रदर्शन थम नहीं रहा।

प्रदर्शनकारियों में खौफ पैदा करने के लिए चीन ने अपनी सेना को भी उतार दिया है। सेना ने एक वीडियो जारी किया है। वीडियो में सेना को दंगा करते प्रदर्शनकारियों के खिलाफ शक्ति प्रदर्शन का अभ्यास करते दिखाया है। वे हथियारों से लैस सड़कों में मार्च कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों पर पानी की बौछार कर रहे हैं।

चीनी सेना के शक्ति प्रदर्शन के अभ्यास के वीडियो जारी होने के बाद से ही चिंताएं बढ़ने लगी हैं कि क्या चीन बलपूर्वक हांगकांग के प्रदर्शन को भी कुचल सकता है। सिडनी के लोवी इंस्टीट्यूट के विश्लेषक बेन ब्लांड का कहना है कि हांगकांग के प्रदर्शनकारियों में भय पैदा करने के लिए ही सेना ने इस तरह के वीडियो जारी किए हैं।

उनका कहना है कि आज के जो आर्थिक हालात हैं उनमें थ्येनआनमन जैसी कार्रवाई चीन के लिए घातक हो सकती है। चीन का वहां सड़कों पर सेना उतारना भी एक खतरनाक कदम हो सकता है। बता दें कि 1989 में थ्येनआनमन चौक पर लोकतंत्र समर्थकों को चीन ने बलपूर्वक कुचल दिया था। इस संहार की दुनियाभर में कड़ी निंदा की गई थी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप