झिंजियांग, एजेंसी। चीन में कोरोना वायरस महामारी एक बार फिर अपने चरम पर है।‌ देश में इस वक्‍त कोरोना वायरस का ओमिक्रोन वैरिएंट लोगों के लिए बड़ी परेशानी का सबब बना हुआ है। ऐसे में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कुछ शहरों में पहले ही लॉकडाउन लगाए जा चुके हैं। वहीं अब देश के झिंजियांग शहर में चीनी अधिकारियों ने 3 दिन के सख्त लॉकडाउन की चेतावनी दी है।

कोविड-19 का नवीनतम प्रकोप

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार, क्षेत्र में कोविड ​​​​-19 के नवीनतम प्रकोप के बीच, चीनी अधिकारियों ने शुक्रवार को घोषणा कर कहा कि उन्होंने झिंजियांग में 410 नए स्पर्शोन्मुख (asymptomatic) COVID-19 संक्रमणों का दस्तावेजीकरण किया है, जो कुल 1,727 हैं, आपको बता दें कि यह क्षेत्र कोविड-19 के नए संक्रमण पहली बार जूझ रहा है, जिसके चलते सख्त लॉकडाउन का यह कदम उठाया गया है।

एक अधिकारी ने बताए तालाबंदी के नियम

कोरघास काउंटी में एक अधिकारी का हवाला देते हुए, रेडियो फ्रेस एशिया ने बताया कि अधिकारी यह सुनिश्चित करने के लिए सड़क पर गश्त कर रहे हैं कि कोई भी क्षेत्र में चल रहे तालाबंदी के दौरान अपने घरों को नहीं छोड़ रहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि निवासी यदि ऐसा करते हैं तो उन्हें तीन सप्ताह तक हिरासत में रखा जाएगा।

अधिकारी ने कहा, 'हम निवासियों को सूचित कर रहे हैं कि जो लोग सिस्टम का उल्लंघन करते हैं, यानी जो लोग सड़कों पर निकलते हैं, उन्हें दंडित किया जाएगा और 15-20 दिनों की 'री-एजुकेशन' के लिए भेजा जाएगा।'

वहीं गांव महिला समिति के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि अधिकारियों द्वारा 'निवासियों को दवा वितरित की जा रही है' हालांकि वह किस प्रकार के बारे में थी यह अनिश्चित है। अधिकारी ने कहा, 'वे क्रीम रंग के हैं और कहा जाता है कि वे बीमारी को रोकते हैं।'

वहीं इस हफ्ते की शुरुआत में, चीनी राज्य मीडिया ने बताया कि अधिकारियों ने निवासियों को कई शहरों में संगरोध करने का आदेश दिया है।

दक्षिण-पश्चिम चीन के जिजाग (तिब्बत) स्वायत्त क्षेत्र में नए COVID-19 का प्रकोप चिकित्सा कर्मियों और न्यूक्लिक एसिड परीक्षण नमूना संग्राहकों की कमी के साथ-साथ इसकी उच्च ऊंचाई के कारण गंभीर मामलों के इलाज के लिए ऑक्सीजन की कमी के बीच पूरे क्षेत्र में गंभीर चिंता की स्थिति बनी हुई है।

Edited By: Ashisha Singh Rajput