बीजिंग, एजेंसी। चीन ने ताइवान के पास फिर से सैन्य अभ्यास किया है। चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने बुधवार को दावा किया है कि उसने ताइवान के पास सैन्य अभ्यास किया है। इस महीने ये इस तरह की तीसरी घटना है। इससे पहले चीनी नौसैनिक पोत जापान की समुद्री सीमा में घुस गए थे। ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि चीन के विमान नियमित रूप से सीमा का उल्लंघन करते आ रहे हैं।

पहले भी किया था सैन्‍य अभ्यास

इससे पहले चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने ताइवान के पास सैन्‍य अभ्यास किया था। चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने 10 मई को कहा था कि शुक्रवार से रविवार तक ताइवान के पास एक और दौर का संयुक्त अभ्यास किया गया। बता दें कि यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद से ताइवान ने अलर्ट जारी कर रखा है। उसे चीन से हमले का खतरा है।

चीनी विमानों ने की थी घुसपैठ

यहीं नहीं, चीन के विमानों ने ताइवान के वायु क्षेत्र में घुसपैठ की थी। इसके बाद सक्रिय हुई ताइवान की वायुसेना ने अतिक्रमण करने वाले चीनी विमानों को अपने क्षेत्र से दूर जाने को कहा था। चीन के विमान ताइवान के हवाई रक्षा क्षेत्र में प्रवेश कर गए थे। ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि चीन के विमान नियमित रूप से सीमा का उल्लंघन करते आ रहे हैं।

बाइडन ने दी थी धमकी

बता दें कि जापान में क्वाड सम्मेलन में शामिल होने गए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने चीन को धमकी दी थी। बाइडन ने चेतावनी देते हुए कहा था कि हम ताइवान में शांति और स्थिरता का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। अमेरिका जापान और अन्य देशों के साथ दृढ़ता से खड़ा है। बाइडन ने ये भी कहा था कि अगर बीजिंग हमला करता है तो अमेरिका ताइवान की सैन्य रूप से रक्षा करेगा।

Edited By: Manish Negi