बीजिंग, एजेंसी । हांगकांग में बीजिंग समर्थक नेता को चाकू मारे जाने के बाद चीन की प्रतिक्रिया सामने आई है। चीन ने इसकी कठोर शब्‍दों में निंदा की है। चीन का कहना है कि यह हांगकांग में होने वाले स्‍थानीय चुनावों को प्रभावित करने वाला कदम है। चीन ने कहा यह चुनावी डकैती हैं। समाचार एजेंसी सिन्‍हुआ सामाचार एजेंसी के अनुसार हांगकांग और मकाऊ मामले के प्रवक्‍ता जू लुयिंग ने गुरुवार को कहा कि  यह एक गंभीर आपराधिक कृत्‍य था। यह शुद्ध रूप से चुनावी हिंसा है। उन्‍होंने कहा कि चुनाव के दौरान काूनन व्‍यवस्‍था को बनाए रखना पुलिस की जिम्‍मेदारी है। 

क्‍या था मामला 

बता दें कि हांगकांग में बीजिंग समर्थक एक राजनेता जूनियस हो पर चुनाव प्रचार के दौरान लोकतंत्र समर्थकों ने चाकूओं से प्रहार किया था। इस हमले वह गंभीर रूप से जख्‍मी हो गए थे। इस घटना को हांगकांग में कई महीनों से चल रहे लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शन से जोड़कर देखा जा रहा है। इस हमले का वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया है। पुलिस न हमलावर को गिरफ्तार कर लिया है।

वायरल वीडियो में हमलावर पहले हो का फूलों से स्‍वागत करते दिखाई दे रहा है। इसके बाद वह हो के साथ एक तस्‍वीर लेने की जिद करता है। वीडियो में हमलावर को बैग से चाकू निकालते दिखाया गया है। इसके बाद चाकू से छाती पर प्रहार करने का भी सीन है। हमले के बाद हो के समर्थकों ने हमलावर को अपने काबू में कर लिया। इस वीडियो में हमलावर कहा है कि तुम जूनियस हो। इस हमले में हमलावर समेत तीन लोग घायल हुए हैं।

चीन कर रहा है अधिकारों का हनन, प्रदर्शनकारी 

हांगकांग में प्रदर्शन कर रहे लोगों का मानना है कि चीन लगातार उनके अधिकारों का या तो हनन कर रहा है या फिर उन्‍हें खत्‍म कर रहा है। इन लोगों का मानना है कि चीन उनसे उनकी आजादी छिनने की कोशिश कर रहा है और इसके खिलाफ उठने वाली आवाज को बलपूवर्क दबाने पर तुला है। वहीं चीन हांगकांग पर प्रदर्शनकारियों की आवाज बने दूसरे मुल्‍कों को भी चुप रहने की हिदायत दे चुका है। इतना ही नहीं चीन साफ कर चुका है कि इस तरह के प्रदर्शनों को शांत करने के लिए कुछ भी करने से गुरेज नहीं करेगा। चीन सिर्फ यह बातें कह ही नहीं रहा है बल्कि इसके लिए खुद को तैयार भी कर रहा है।  

 

Posted By: Ramesh Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप