वाशिंगटन, रायटर। अमेरिकी नौसेना का एक युद्धपोत बुधवार को ताइवान जलडमरूमध्य (स्ट्रेट) से होकर गुजरा। अमेरिका के इस कदम से चीन भड़क सकता है। यह पोत ताइवान के पास से ऐसे समय गुजरा, जब वाशिंगटन और बीजिंग के संबंधों में तनाव है।

नौसेना प्रवक्ता क्ले डॉस के अनुसार, हिंद-प्रशांत क्षेत्र में स्वतंत्र आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए अमेरिका की प्रतिबद्धता को दर्शाने के लिए एक युद्धपोत ताइवान स्ट्रेट से होकर गुजरा। अमेरिकी नौसेना उन सभी जगहों पर अपने अभियान संचालित करेगी, जहां अंतरराष्ट्रीय कानून लागू होते हैं।'

बता दें कि ताइवान को चीन अपना क्षेत्र मानता है। वह इस क्षेत्र में किसी अन्य देश का हस्तक्षेप पसंद नहीं करता। हालांकि अमेरिका इसकी परवाह किए बगैर ताइवान को सैन्य साजो-सामान मुहैया कराता है। अमेरिका ने हाल ही में ताइवान को दो अरब डॉलर के हथियार बेचने की मंजूरी दी है।

इस पर चीन की ओर से कड़ा एतराज जताया गया है। बीजिंग ने गत बुधवार को एक बयान में अमेरिका को आगाह किया कि अगर ताइवान की आजादी को लेकर कोई भी कदम उठाया जाता है तो वह युद्ध के लिए तैयार है।

Posted By: Sanjeev Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप