वाशिंगटन, एपी। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच अमेरिका ने अफगानिस्तान में स्थित दूतावस को बंद कर दिया है। यहां पर स्थिति अमेरिकी दूतावास ने कर्मचारियों के बीच कोरोना वायरस के मामलों में भारी वृद्धि के कारण लगभग पूर्ण लाकडाउन का आदेश दिया है। काबूल में दूतावास ने गुरुवार को बचे हुए कर्मचारियों में कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए आइसोलेशन के आदेश दिए हैं। जहां पर इस वायरस से पहले ही एक शख्स की मौत हो चुकी है जबकि 114 लोगों को आइसोलेशन में रखा गया।

दूतावास ने कर्मचारियों को एक नोटिस में कहा कि कार्य बैठकों और मनोरंजक समारोहों सहित लगभग सभी समूह गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है क्योंकि अफगानिस्तान में सैन्य चिकित्सा सुविधाएं देने की क्षमता पूरी हो चुकी है। साथ ही लगातार बढ़ रहे मामलों के चलते अस्थायी कोविड वार्ड स्थापित किए जा रहे हैं, जहां पर मरीजों को अक्सीजन की जरुरत है। दूतावास की तरफ से साफ कहा गया है कि यह प्रतिबंध तब तक लगा रहेगा तब तक कि कोरोना संक्रमण की चैन टूटती नहीं। नोटिस में कहा गया है कि 95 फीसद मामलों में ऐसे लोग शामिल हैं, जिन्होंने टीका नहीं लगवाया है। ऐसे में सभी कर्मचारियों से दूतावास में उपलब्ध टीकों का लाभ उठाने का आग्रह किया गया है।

कार्यवाहक अमेरिकी राजदूत रॉस विल्सन ने नोटिस में कहा कि हमें एक दूसरे की रक्षा के लिए कोरोना ट्रांसमिशन की श्रृंखला को तोड़ना चाहिए और देश के कारोबार को चलाने के लिए मिशन की क्षमता सुनिश्चित करना चाहिए। आगे उन्होंने कहा कि जब तक कोरोना ट्रांसमिशन की चेन नहीं टूटती, तब तक पाबंदियां जारी रहेंगी। इससे निपटने के लिए हम सब इसमें एक साथ हैं और इस कठिन समय के दौरान आपके सहयोग पर भरोसा करते हैं।

Edited By: Pooja Singh