वाशिंगटन, एएफपी। अमेरिका के 43 सांसदों ने चीन में मानवाधिकार हनन मामले को लेकर शिनजियांग प्रांत के प्रमुख एवं कम्युनिस्ट पार्टी के बड़े नेता चेन कुआनगुओ पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। अमेरिकी संसद के उच्च सदन सीनेट के 24 और निम्न सदन प्रतिनिधि सभा के 19 सांसदों ने पत्र लिखकर बताया कि चीन में उइगर मुसलमानों के साथ किए जा रहे अमानवीय व्यवहार पर ट्रंप प्रशासन को कड़ी कार्रवाई करने की जरूरत है। उन्होनें कहा कि चीन में मानवाधिकार उल्लंघन मामले में दोषी कंपनियों के नाम भी उजागर किए जाने चाहिए।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ और अन्य शीर्ष अधिकारियों को संबोधित पत्र में कहा गया है कि चीन के हिरासत केंद्रों से लगातार आ रही मानवाधिकार हनन की खबरों के बावजूद अभी तक कोई प्रतिबंध नहीं लगा है। यह दुखद है।

चीन में संयुक्त राष्ट्र प्रतिनिधियों के जांच में पाया गया है कि शिनजियांग प्रांत में स्थानीय प्रशासन की निगरानी में हिरासत शिविरों में 10 लाख के करीब उइगर मुसलमान बंधक बनाकर रखे गए हैं। उन्हें कई प्रकार की यातनाएं दी जाती है।

सांसदों ने अमेरिकी प्रशासन से शिनजियांग प्रांत में सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के सचिव चेन कुआनगुओ पर मैग्नीटस्काय एक्ट के तहत प्रतिबंध लगाने की मांग की है। एक्ट के अनुसार मानवाधिकार हनन के दोषी किसी विदेशी नागरिक के अमेरिका में प्रवेश पर रोक के अलावा उसकी संपत्ति जब्त करने का प्रावधान है।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस