युनाइटेड नेशंस, आइएएनएस। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने अफगानिस्तान में एक मस्जिद के अंदर हुए हमले की कड़ी निंदा है। इस हमले में भारी संख्या में लोगों ने जान गंवाई है। यूएन प्रमुख के प्रवक्ता ने इस बात की जानकारी दी है।स्टीफन दुजारिक ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, 'प्रवक्ता ने कहा कि इस हमले के लिए जिम्मेदार लोगों को जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, यूएन महासचिव ने पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी सहानुभूति और संवेदना व्यक्त की और उन घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की। गुटेरस ने अफगानिस्तान के लोगों और सरकार के साथ संयुक्त राष्ट्र की एकजुटता को दोहराया।

बता दें,पूर्वी अफगानिस्तान के नांगरहार प्रांत में शुक्रवार की नमाज के दौरान मस्जिद पर हुए हमले में 62 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हो गए। हालांकि धमाके के पीछे की वजह पता नहीं चल पाई है, इसके पीछे की वजहों को खोजा जा रहा है। इस हमले की किसी भी आतंकी संगठन ने अबतक जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन यहां ये बताना जरूरी है कि तालिबान और आइएसआइएस के आतंकी काबुल से 120 किलोमीटर पहले इस प्रांत के कुछ हिस्सों पर अपना नियंत्रण रखते हैं।संयुक्त राष्ट्र के सभ्यताओं के उच्च प्रतिनिध  मिगुएल मोरैटिनोस ने भी हमले की कड़ी निंदा की।

उनके प्रवक्ता हाल साद ने एक बयान में कहा, 'उच्च प्रतिनिधि ने जोर देकर कहा कि धार्मिक स्थलों और उपासकों को निशाना बनाने वाली हिंसा और हिंसा के सभी प्रकार, उनकी आस्थाओं और विश्वासों की परवाह किए बिना, अनुचित हैं।'

मॉरीटिनो ने धार्मिक स्थलों की सुरक्षा के लिए संयुक्त राष्ट्र की कार्य योजना को याद किया, जिसे उनकी टीम ने विकसित किया था और पिछले महीने गुटेरेस द्वारा लॉन्च किया गया था। मोरैटिनोस ने इस योजना के आसपास रैली करने और इसके कार्यान्वयन की दिशा में कदम उठाने की आवश्यकता पर जोर दिया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस