वॉशिंगटन, एजेंसी। भारत में दिवाली का त्योहार मनाए जाने के एक सप्ताह बाद व्हाइट हाउस में दिवाली समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी शामिल हुए। उन्होंने मंगलवार को व्हाइट हाउस में दीया जलाया। इस दौरान भारतीय अमेरिकी अधिकारी भी वहां मौजूद रहे। जश्न के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने दीवाली को हिंदुओं का बड़ा पर्व बताया।

व्‍हाइट हाउस में दिवाली का आयोजन मंगलवार को किया गया, जिसके बाद ट्रंप ने समारोह की तस्वीर ट्वीट करते हुए कहा, 'आज हम सभी दिवाली के लिए एकत्र हुए, जो अमेरिका और दुनियाभर में रहने वाले बौद्ध, सिख और जैन समुदाय के लोगों के लिए 'हॉलीडे' है।' वहीं, एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'हिंदू प्रकाश पर्व दिवाली का आयोजन मेरे लिए सम्‍मान की बात है।'

दिवाली समारोह के दौरान ट्रंप ने भारत के प्रधानमंत्री का जिक्र करते हुए कहा कि वे पीएम नरेंद्र मोदी का बहुत सम्मान करते हैं और जल्द ही उनसे बातचीत भी करेंगे। जानकारी के मुताबिक, दिवाली जश्न के दौरान अमेरिका में भारत के राजदूत नवतेज सिंह सरना से ट्रंप ने कहा, 'मैं जल्द उनसे (नरेंद्र मोदी) बातचीत करूंगा।' सरना ने ट्रंप को जवाब देते हुए कहा कि वे भी आपसे मिलना चाहते हैं। सरना ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप को भारत से विशेष लगाव है।

इस बार खास बात यह रही कि राष्ट्रपति ट्रंप ने इतिहास रचते हुए भारतीय राजदूत नवतेज सिंह सरना को व्हाइट हाउस में आयोजित दिवाली समारोह में अपने साथ मंच साझा करने के लिए आमंत्रित किया। इतना ही नहीं, व्हाइट हाउस के रूजवेल्ट रूम में ट्रंप की बॉडी लैंग्वेज से साफ नजर आ रहा था कि वे भारत-अमेरिका संबंधों को कितना महत्व देते हैं। मंगलवार को दूसरी बार ट्रंप ने व्हाइट हाउस में दिवाली समारोह में दीया जलाया।

भारतीय मोलभाव में माहिर : ट्रंप
इस दौरान ट्रंप ने भारत को व्यापार समझौतों के नजर से एक शानदार मोल-भाव करने वाला बताया। ट्रंप ने व्हाइट हाउस से अपने संदेश में कहा कि अमेरिका और भारत के बीच गहरे रिश्ते हैं और मैं प्रधानमंत्री मोदी के साथ अपनी दोस्ती के लिए आभारी हूं। उन्होंने कहा, 'हम भारत के साथ बेहतर व्यापार समझौते करना चाहते हैं लेकिन वो मोलभाव में माहिर हैं। यकीनन वे इसमें सबसे अच्छे हैं, इसलिए हमें मेहनत करनी पड़ रही है, लेकिन कोशिश जारी है।'

गौरतलब है कि ट्रंप और मोदी 30 नवंबर और एक दिसंबर को अर्जेंटीना में जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्ला लेंगे। संभावना जताई जा रही है कि यहां दोनों नेताओं के बीच बैठक हो सकती है। हालांकि व्हाइट हाउस की ओर से अब तक इस संबंध में कोई घोषणा नहीं की गई है। बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने पिछले साल जून में व्हाइट हाउस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मेजबानी भी की थी।

Posted By: Nancy Bajpai

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप