वाशिंगटन, प्रेट्र। वैज्ञानिकों ने एक ऐसे महत्वपूर्ण जीन की पहचान की है, जिसकी मदद से मानव रक्त वाहिकाएं बनाना संभव हो सकता है। ऐसा होने से डायबिटीज से लेकर दिल का दौरा और स्ट्रोक जैसी बीमारियों के इलाज का बेहद कारगर रास्ता मिल सकेगा। नई रक्त वाहिकाएं विकसित करने के लिए वैज्ञानिक मुख्य रूप से उनकी अंदरूनी सतह बनाते हैं। यह सतह एंडोथेलियल कोशिकाओं से बनती है।

वैज्ञानिकों को उम्मीद थी कि यह अंदरूनी सतह अन्य कोशिकाओं की मदद से स्वयं पूरी तरह कार्य करने में सक्षम रक्त वाहिका बना देती है। अमेरिका के यूनिवर्सिटी ऑफ वर्जीनिया स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने जब इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाया, तब उन्हें ज्ञात हुआ कि रक्त वाहिकाओं को खून का दबाव झेलने के लायक बनाने और रिसाव रोकने में विशेष जीन ओसीटी-4 की अहम भूमिका रहती है।

पहले वैज्ञानिकों का अनुमान था कि ओसीटी-4 जीन केवल भ्रूण में ही सक्रिय होता है। वयस्क लोगों में इसकी सक्रियता का पता लगने से वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि जल्द ही पूरी तरह खून का बहाव संभालने में सक्षम रक्त वाहिका बनाना संभव हो सकता है।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप