वाशिंगटन, एआइएनएस : अमेरिकी राज्य मैरीलैंड के अधिकारियों के अनुसार एक एसयूवी के अंदर घायल मिले भारतीय मूल के एक 25 वर्षीय युवक की बाद में मौत हो गई। उसके सिर में गोली का घाव मिला है। एक समाचार पोर्टल ने सोमवार को बताया कि 25 वर्षीय साई चरण नक्का एक यूएसवी में घायल मिले थे। उन्हें मैरीलैंड आर.एडम्स काउले ट्रामा सेंटर (University of Maryland R. Adams Cowley Shock Trauma Center) ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। नक्का तेलंगाना के नलगोंडा जिले के रहने वाले थे। उनके माता-पिता उनके निधन की खबर से बहुत दुखी हैं। उन्होंने कहा कि वे नहीं चाहते थे कि उनका बेटा अमेरिका जाए। 

26 साल के नक्का साई चरण (Nakka Sai Charan) पर रविवार शाम एक अश्वेत व्यक्ति ने गोलियां चला दीं। अमेरिका में मौजूद नक्का साई चरण के दोस्तों ने बताया कि परिवार को घटना की जानकारी दी जा चुकी है। बता दें कि मैरीलैंड में कैटन्सविले (Catonsville in Maryland) के पास अपनी कार में यात्रा कर रहे साई चरण की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उनकी हत्या उस समय की गई, जब वह एक दोस्त को हवाई अड्डे पर छोड़ कर घर लौट रहे थे।

बाल्टीमोर शहर में एक कंपनी में काम कर रहे थे चरण

साफ्टवेयर इंजीनियर के सिर में गोली लगी थी। गोली लगने के बाद उन्हें मैरीलैंड विश्वविद्यालय आर. एडम्स काउली शाक ट्रामा सेंटर में स्थानांतरित किया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। बता दें कि साफ्टवेयर इंजीनियर पिछले दो सालों से मैरीलैंड के बाल्टीमोर शहर में एक कंपनी के साथ काम कर रहे थे।

परिजनों की सरकार से शव घर लाने की गुहार

उनके माता-पिता और परिवार के अन्य सदस्यों को यह खबर मिलने के बाद अत्यंत दुखी हैं। परिजनों ने भारत सरकार और तेलंगाना सरकार से नक्का साई चरण के शव को घर लाने में मदद करने की अपील की है। बता दें कि अमेरिका में लगातार गोलीबारी की घटनाएं बढ़ रही है।

Edited By: Piyush Kumar