द न्यूयॉर्क टाइम्स, वाशिंगटन। अमेरिका की संसद के निचले सदन हाउस ऑफ रेप्रिजेंटेटिव ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा लगाए गए आपातकाल को रद करने का प्रस्ताव पारित किया है। निचले सदन में मंगलवार को 182 के मुकाबले 245 वोटों से पास हुए इस प्रस्ताव को अब संसद के उच्च सदन सीनेट में रखा जाएगा। सीनेट में सत्तारूढ़ रिपब्लिकन पार्टी का बहुमत होने के कारण प्रस्ताव के पास होने की संभावनाएं काफी कम हैं। लेकिन कई रिपब्लिकन सांसदों ने इसके समर्थन का एलान किया है।

मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाने के अपने चुनावी वादे को पूरा करने के लिए ट्रंप ने संसद से 5.7 अरब डॉलर (करीब 40 हजार करोड़ रुपये) मांगे थे। इस पर मंजूरी नहीं मिलने के बाद सीमा पर हो रही ड्रग्स तस्करी का हवाला देते हुए ट्रंप ने गत 15 फरवरी को देश में आपातकाल की घोषणा कर दी थी। इसकी वजह से सरकारी कामकाज ठप है। इससे पहले दिसंबर के अंत से जनवरी तक चले एक महीने लंबे शटडाउन में भी सरकारी कामकाज आंशिक रूप से ठप रहा था।

आपातकाल खत्म करने का प्रस्ताव दोनों सदनों से पारित होने के बाद भी ट्रंप अपने वीटो पावर का इस्तेमाल कर उसे जारी रख सकते हैं। वीटो पावर को चुनौती देने के लिए प्रस्ताव को दो-तिहाई बहुमत से पारित करना होगा। डेमोक्रेटिक नेता नैंसी पेलोसी की अध्यक्षता वाले निचले सदन में यह प्रस्ताव पहले ही दो-तिहाई बहुमत पाने से चूक गया। लेकिन सुप्रीम कोर्ट में उम्मीद अब भी बची है। कैलिफोर्निया के नेतृत्व में 16 राज्यों ने आपातकाल रद करने के लिए ट्रंप पर मुकदमा किया है।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस