वॉशिंगटन, पीटीआइ। भारत के खिलाफ पाकिस्तान की नापाक हरकत का एक बार फिर खुलासा हुआ है। नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ पाकिस्तान, अमेरिका में अपना भारत विरोधी एजेंडा चला रहा है। यहां सीएए विरोधी प्रदर्शनों में पाकिस्तान समर्थक तत्वों की मौजूदगी देखने को मिल रही है।

भारतीय-अमेरिकी समुदाय के एक नेता ने कहा कि पाकिस्तान समर्थक तत्व अमेरिका में भारत के खिलाफ अपने छिपे हुए एजेंडे को अंजाम दे रहे हैं। यहां नागरिकता कानून को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शनों में पाकिस्तान घुसपैठ करा रहा है।

वॉशिंगटन डीसी में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हाल ही हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान पाकिस्तानी समर्थक तत्वों ने घुसपैठ की और भारत विरोधी पोस्टर दिखाए गए। भारतीय-अमेरिकी समुदाय के नेता अदपा प्रसाद ने दावा करते हुए कहा कि रविवार को वॉशिंगटन डीसी में सीएए विरोधी प्रदर्शन के मुख्य आयोजकों में दो पाकिस्तानी-अमेरिकी भी शामिल थे।

पाकिस्तानी-अमेरिकी कार्यकर्ता मुख्य अयोजक

प्रसाद ने पीटीआई को बताया कि पाकिस्तानी-अमेरिकी कार्यकर्ता दारक्षण राजा और खुदाई तनवीर अमेरिका में सीएए विरोधी प्रदर्शनों के मुख्य समन्वयकों में से एक हैं। इससे पहले इन्होंने वॉशिंगटन डीसी इलाके में कश्मीरी अलगाववादी प्रदर्शनों का भी आयोजन कराया था।

भारत विरोधी नारे

प्रसाद और उनकी टीम ने वॉशिंगटन डीसी में सीएए विरोधी प्रदर्शन में शामिल कुछ लोगों की वीडियो और तस्वीरें साझा की हैं, जिसमें शहर और आसपास के 500 से अधिक भारतीय-अमेरिकियों ने भाग लिया था। प्रसाद ने कहा कि उर्दू में लिखे गए पोस्टरों में से एक में कहा गया, 'हंस के लिया है पाकिस्तान, लड़ के लेंगे हिंदुस्तान'।

नागरिकता लेने का नहीं देने का कानून

बता दें कि पिछले दिसंबर में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) भारत में लागू हुआ था। जिसके बाद से भारत में इसको लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। भारत सरकार ने इस बात को साफ कर दिया है कि इस अधिनियम से किसी की नागरिकता नहीं जाएगी। इस कानून का मकसद पड़ोसी देशों में धार्मिक उत्पीड़न का शिकार हो रहे अल्पसंख्यकों को नागरिकता प्रदान करना है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस