वाशिंगटन, पीटीआइ। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने सोमवार को भारत, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, इजरायल, जापान और दक्षिण कोरिया के अपने सहयोगियों के साथ कोरोना वायरस महामारी से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की। इस दौरान सभी देशों के विदेश मंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से चर्चा में शामिल हुए।

पोम्पियो ने विदेश मंत्री एस जयशंकर, ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री मारिज पायने, ब्राजील के विदेश मंत्री अर्नेस्टो हेनरिक फ्रगा अरुजो, इजरायल के विदेश मंत्री यिसरेल काट्ज, जापानी विदेश मंत्री तारो कोनो और दक्षिण कोरिया के विदेश मंत्री कांग क्यूंग-वा से बात की।

विदेश विभाग के प्रवक्ता मॉर्गन ऑर्टागस ने कहा, 'पोम्पिओ और उनके समकक्षों ने कोविड-19 महामारी से निपटने में अंतरराष्ट्रीय सहयोग, पारदर्शिता और जवाबदेही के महत्व पर चर्चा की।' उन्होंने कहा बैठक में भविष्य के वैश्विक स्वास्थ्य संकटों से निपटने और अंतर्राष्ट्रीय नियमों को मजबूत करने की दिशा पर भी चर्चा हुई।

वहीं, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि यह कोरोना वायरस द्वारा उत्पन्न चुनौती को लेकर एक व्यापक चर्चा हुई है।

कोरोना महामारी को लेकर चीन के उपर लगातार अरोप लगते रहे हैं। अमेरिका समेत कई देशों ने इस बात पर भी सवाल उठाया है कि क्या चीन वुहान से शुरू हुए कोरोना वायरस को लेकर पूरी तरह से पारदर्शी था। हालांकि चीन ने सभीआरोपों से इनकार किया है।

बता दें की पिछले साल चीन के वुहान से शुरू हुए कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा अमेरिका प्रभावित है। किसी भी अन्य देश के मुकाबले अमेरिका में कोविड-19 की वजह से सबसे ज्यादा लोगों की मौत हुई है। जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के अनुसार मेरिका में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस से 830 मौतें हुई हैं। इसको मिलाकर देश में अबतक मरने वालों का आंकड़ा 80,352 हो गया है, जबकि 13 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं।

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस