वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिका में नस्ली हिंसा का शिकार भारतवंशी लड़की के इलाज के लिए लोगों ने छह लाख डॉलर (करीब चार करोड़ रुपये) की राशि दान की है। जिंदगी और मौत से जूझ रही सातवीं क्लास में पढ़ने वाली 13 वर्षीय दृष्टि नारायण के लिए आठ दिन पहले शुरू किए गए गोफंडमी अभियान के तहत यह राशि जुटाई गई।

गत 23 अप्रैल को अपने मां-बाप के साथ कैलिफोर्निया के सनीवेल में सड़क पार कर रही दृष्टि को कार चला रहे अमेरिका के एक पूर्व सैनिक इसैया पीपुल्स ने टक्कर मार दी थी। उसने दृष्टि के परिवार को मुस्लिम समझकर टक्कर मारी थी। इस घटना में दृष्टि, उसका नौ साल का भाई और माता-पिता सहित आठ लोग घायल हो गए थे।

जानबूझकर गाड़ी चढ़ाने के मामले में 34 वर्षीय पीपुल्स पर मुकदमा चलाया जा रहा है। सांता क्लारा काउंटी जेल में बंद पीपुल्स मानसिक बीमारी से पीड़ित है। दृष्टि के इलाज में बड़ी रकम की जरूरत को देखते हुए इंटरनेट पर गोफंडमी अभियान चलाया गया था। इसके तहत लोगों से पांच लाख डॉलर जुटाने का अनुरोध किया गया था, लेकिन लोगों ने बढ़चढ़ कर इसमें हिस्सा लेते हुए फंड की राशि को छह लाख डॉलर से भी ऊपर पहुंचा दिया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप