मेक्सिको सिटी, रायटर। मेक्सिको के मशहूर रॉक बैंड बोटेलिटा डी जेरेज के संस्थापक अरमांडो वेगा गिल (64) ने सोमवार को ट्विटर पर सुसाइड नोट पोस्ट करने के बाद आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में उन्होंने मीटू अभियान के तहत उन पर लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोप को गलत ठहराया है।

मेक्सिको में संगीतकारों के खिलाफ चल रहे मीटू अभियान में गिल पर एक महिला ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। महिला के अनुसार यह घटना तब हुई जब वह 13 साल की थी। नोट में गिल ने कहा, 'मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि मुझ पर लगे इल्जाम झूठे हैं। मेरी मौत मेरे जुर्म की स्वीकारोक्ति नहीं है।

यह मेरी बेगुनाही की घोषणा है।' उन्होंने यह भी लिखा कि उनकी मौत के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं माना जाना चाहिए। बैंड की प्रतिनिधि पाओला हर्नाडेज ने कहा, 'गिल की मौत से दो दिन पहले ही मेरी उनसे बात हुई थी।

वह बहुत दुखी और परेशान थे। उन्हें समझ नहीं आ रहा था कि वह खुद को निर्दोष कैसे साबित करें। वह अपने बेटे को लेकर भी चिंतित थे कि वह यह सब कैसे देखेगा।'

Posted By: Prateek Kumar