वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिका में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की पैरोकार डेमोक्रेट सांसदों की टीम ने शुक्रवार को सीनेट में आरोपों के समर्थन में अपना वक्तव्य पूरा कर लिया। वरिष्ठ सांसद एडम स्किफ के नेतृत्व वाली प्रतिनिधि सभा की टीम ने कहा, ट्रंप ने अपने पद का दुरुपयोग किया और संसद की जांच में बाधा डाली। इस टीम ने तीन दिन में 24 घंटे तक अपनी बात रखी। शनिवार (भारतीय समयानुसार मध्य रात्रि के बाद) ट्रंप के पैरोकार आरोपों का जवाब देंगे।

प्रतिनिधि सभा में ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पारित

विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी के बहुमत वाली प्रतिनिधि सभा में महाभियोग प्रस्ताव पारित हो चुका है। अब सत्तारूढ़ रिपब्लिकन पार्टी के बहुमत वाली सीनेट में प्रस्ताव पर चर्चा हो रही है। डेमोक्रेटिक पार्टी ने आरोप लगाया है कि रिपब्लिकन पार्टी सीनेट में अपने बहुमत का गलत फायदा उठा रही है और वह ट्रंप पर आरोपों को लेकर भेदभाव कर रही हैं।

अमेरिका को स्वच्छ न्याय मिलेगा- एडम स्किफ

एडम स्किफ ने सीनेट को संबोधित करते हुए कहा, उम्मीद करते हैं कि अमेरिका को स्वच्छ न्याय मिलेगा, जो उसका अधिकार भी है। कहा, संविधान के अनुच्छेद-दो का उदाहरण देकर बताया जा रहा है कि राष्ट्रपति अपनी इच्छा से कुछ भी कर सकते हैं, लेकिन यह नहीं बताया जा रहा है कि वह किन परिस्थितियों में क्या कर सकते हैं। उसका उद्देश्य क्या होगा।

अब ट्रंप के पैरोकारों को आरोपों का जवाब देना है

अब ट्रंप के पैरोकारों को आरोपों का जवाब देने के लिए तीन घंटे मिलेंगे। इस दौरान ट्रंप के वकीलों की टीम और रिपब्लिकन पार्टी के कुछ सांसद अपनी बात रख सकते हैं।

यूएस के इतिहास में ट्रंप तीसरे राष्ट्रपति जिनके खिलाफ संसद में महाभियोग की प्रक्रिया चल रही

अमेरिका के इतिहास में ट्रंप तीसरे राष्ट्रपति हैं जिनके खिलाफ संसद में महाभियोग की प्रक्रिया चल रही है। ट्रंप कुछ भी गलत न करने के अपने बयान पर अडिग हैं। महाभियोग की प्रक्रिया को उन्होंने पूरी तरह से झूठी और राजनीतिक फायदा उठाने की नीयत वाली बताया है।

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस