न्यूयॉर्क, एजेंसी। बीपी (ब्‍लड प्रेशर) यानी उच्च रक्तचाप की समस्या एक उम्र के बाद होने वाली समस्या नहीं रह गई है। अब यह लगभग हर आयु वर्ग के लोगों में देखने को मिलती है। इसे नियंत्रित करने के लिए लोग तरह-तरह के जतन करते हैं। कुछ लोग सुबह घूमने जाते हैं तो कुछ अपने भोजन में नमक लेना या तो बंद कर देते हैं या कम कर देते हैं। एक नए अध्ययन में शोधकर्ताओं ने दावा किया है बीपी को नियंत्रित करने के लिए होला डांस भी बेहद कारगर सिद्ध हो सकता है।

बीपी से स्ट्रोक का जोखिम
इस अध्ययन के दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि हवाईयन समुदाय के जिन लोगों ने ब्लड-प्रेशर कम करने के कार्यक्रम में अपना सांस्कृतिक नृत्य (होला डांस) किया। उनका बीपी उचित भोजन, एक्सरसाइज और नियमित दवा लेने वालों के मुकाबले कम था। होनोलूलू की यूनिवर्सिटी ऑफ हवाई में नेटिव हवाईयन हेल्थ डिपार्टमेंट के अध्यक्ष और प्रोफेसर कीव अमोको काहोकुला ने कहा कि उच्च रक्तचाप का इलाज करने के बावजूद कई मूल निवासियों को अपने रक्तचाप को नियंत्रित करने में कठिनाई होती है, जिससे कोरोनरी हृदय रोग और स्ट्रोक का जोखिम बढ़ता है।

क्या है होला
होला एक गीत आधारित पोलीनेशियन नृत्य है। इसे पोलीनोशियंस ने ही हवाई द्वीप में विकसित किया था, जो वास्तविक रूप से वहीं के निवासी थे।

कैसे किया अध्ययन
किसी भी निष्कर्ष में पहुंचने से पहले शोधकर्ताओं ने हवाई द्वीप में रहने वाले 250 से ज्यादा प्रतिभागियों को अध्ययन के लिए चयनित किया। इनकी औसत आयु 58 वर्ष थी। इनमें 80 फीसद महिलाएं शामिल थीं और ये बीपी की दवाएं भी ले रही थीं। इसके बावजूद भी उनका बल्ड प्रेशर 130-140 एमएमएचजी था। साथ ही उन्हें टाइप 2 डायबिटीज की शिकायत भी थी। इस दौरान प्रतिभागियों ने तीन महीने तक सप्ताह में दो बार ‘होला’ की क्लास ली और इसका अगले तीन महीने तक अभ्यास किया। इसके अलावा शोधकर्ताओं ने प्रतिभागियों को हाइपरटेंशन और स्वस्थ शरीर के बारे में जानकारी दी।

एक्सरसाइज का ज्‍यादा असर धमनियों पर  
इस दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन लोगों ने होला की कक्षाएं नियमित रूप से लीं, उनका बीपी अन्य के मुकाबले 80-130 एमएमएचजी था। काहोलोकुआ ने कहा कि अध्ययन के परिणाम बताते हैं कि बीपी को नियंत्रित करने लिए होला नृत्य कारगर सिद्ध हो सकता है। इससे आपके पूरे शरीर की एक्सरसाइज हो जाती है। इसका सबसे ज्यादा असर खास तौर पर हमारी धमनियों और शिराओं में पड़ता है।

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस