वाशिंगटन [द न्यूयॉर्क टाइम्स]। अमेरिका में पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और माइक्रोसाफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स समेत कई दिग्गजों के ट्विटर अकाउंट हैक करने के पीछे चार युवकों का हाथ होने का दावा किया जा रहा है। यह बताया जा रहा है कि ट्विटर के इंटरनल सिस्टम के जरिये इस हैकिंग को अंजाम दिया गया था। इस सनसनीखेज हैकिंग में इस सोशल माइक्रोब्लॉगिंग साइट के कुछ कर्मचारियों की मिलीभगत की भी बात सामने आ रही है। इस मामले की एफबीआइ ने जांच शुरू की है।

ट्विटर अकाउंट को नियंत्रित करने का दावा

हैकिंग को अंजाम देने का दावा करने वाले किर्क नामक एक हैकर ने द न्यूयॉर्क टाइम्स अखबार के साथ कई स्क्रीनशॉट साझा किए हैं। इसमें हैकिंग को अंजाम देने वाले चार लोगों के बीच मंगलवार और बुधवार को हुई ऑनलाइन बातचीत का ब्योरा है। हैकिंग को बुधवार को अंजाम दिया गया था। किर्क ने यह साबित भी किया कि वह महत्वपूर्ण ट्विटर अकाउंट को भी नियंत्रित कर सकता है। उसने यह बताया, 'मैं ट्विटर में काम करता हूं। इसे किसी को दिखाए नहीं।'

घटना के पीछे हैकरों का समूह

हैकिंग में लिप्त चारों लोगों ने बाद में अपनी सभी गतिविधियों और बातचीत संबंधी स्क्रीनशॉट भी साझा किए। इससे जाहिर होता है कि अमेरिका में इस तरह के हुए सबसे बड़े ऑनलाइन हमले के पीछे रूस या किसी अन्य देश का नहीं बल्कि हैकरों के एक समूह का हाथ था। अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने भी अपने प्रारंभिक अनुमान में कहा था कि इसमें किसी देश नहीं बल्कि निजी तौर पर हैकर का हाथ हो सकता है।

कर्मचारियों की मिलीभगत से हैकिंग को दिया अंजाम

हैकिंग की घटना के बाद ट्विटर के एक प्रवक्ता ने बताया था कि शुरुआती जांच से उजागर हुआ कि कंपनी के इंटरनल सिस्टम तक पहुंच रखने वाले कुछ कर्मचारियों की मिलीभगत से हैकरों ने अपने मंसूबों को अंजाम दिया। इस घटना के लिए ट्विटर के सीईओ जैक डॉर्सी माफी भी मांग चुके हैं।

इन दिग्‍गजों को बनाया गया था निशाना

बता दें कि हैकिंग में राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन, टेस्ला के सीईओ एलन मस्क, कान्ये वेस्ट, किम कर्दाशियां वेस्ट, वारेन बफेट, जेफ बेजोस और माइक ब्लूमबर्ग समेत कई दिग्गजों के ट्विटर अकाउंट को निशाना बनाया गया था। बिटकॉइन को बढ़ावा देने के लिए इन दिग्गजों के सोशल अकाउंट का इस्तेमाल किया गया था।

45 अकाउंट से किए थे ट्वीट

समाचार एजेंसी रायटर के अनुसार, ट्विटर ने शनिवार को बताया कि हैकरों ने 130 अकाउंट को निशाना बनाया था। हैकर इनमें से 45 अकाउंट का पासवर्ड बदलने और इनसे ट्वीट करने में सफल हुए थे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021