वॉशिंगटन, एएनआइ।Howdymodi, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में हाउडी मोदी कार्यक्रम में 50,000 भारतीयों को एकसाथ संबोधित करेंगे। 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम 22 सितंबर को आयोजित होगा और इसमें अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी शामिल होंगे। यह एक ऐतिहासिक पल होगा जब पहली बार दो ताकतवर देशों के प्रमुख एकसाथ एक मंच पर दिखेंगे और भारतीय समुदाय के 50 हजार से अधिक लोगों को दुनिया के दो बड़े लोकतांत्रिक देशों के नेता एक साथ संबोधित करेंगे। बता दें, पीएम नरेंद्र मोदी के दोबारा सत्ता में आने के बाद यह उनका अमेरिका में पहला कार्यक्रम है।

पाकिस्तान को करारा तमाचा
पीएम मोदी और ट्रंप की ऐसी दोस्ती भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान को बड़ा झटका है, जो बार-बार कश्मीर मुद्दे पर अमेरिका से मदद मांग रहा है। पाकिस्तान, अमेरिका से कश्मीर पर मध्यस्थता की लगातार रट लगा रहा है, लेकिन अमेरिका ने उसकी बात नहीं सुनी है। अमेरिका ने कश्मीर को भारत का आंतरिक मसला बताकर पाकिस्तान को चुप करा दिया है। ऐसे में पाकिस्तान के लिए ट्रंप की मोदी से नजदीकियां परेशान करने वाली हैं।

पीएम मोदी ने भी ट्रंप के साथ अपने संबोधन को लेकर खुशी जताई और इसे लेकर एक ट्वीट किया। पीएम मोदी ने ट्वीट में भारत और अमेरिका के संबंधों का जिक्र किया।

व्हाइट हाउस का बयान
व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव ने एक बयान में कहा, 'रविवार, 22 सितंबर 2019 को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच महत्वपूर्ण साझेदारी को रेखांकित करने के लिए ह्यूस्टन, टेक्सास और वैपकोनेटा, ओहियो की यात्रा करेंगे।ह्यूस्टन में, राष्ट्रपति ट्रम्प भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक कार्यक्रम में भाग लेंगे।' आगे कहा गया कि, ' द इवेंट, हाउडी, मोदी! सपनों और सुनहरे भविष्य को लेकर है। इस कार्यक्रम में हजारों लोगों के शामिल होने की उम्मीद है।'इसके अलावा, डेमोक्रेट नेता स्टेनी होयर भी यहां सभा को संबोधित करने वाले हैं।यह दोनों देशों के बीच संबंधों के लिए मजबूत द्विदलीय समर्थन को भी दर्शाता है।

50,000 लोग होंगे शामिल
ह्यूस्टन के NRG स्टेडियम में इस आयोजन के लिए 50,000 से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया है, जिसे टेक्सास इंडिया फोरम द्वारा होस्ट किया जा रहा है। यह शिखर सम्मेलन, 'साझा सपने, उज्ज्वल भविष्य' के विषय के साथ पिछले सात दशकों से अमेरिकी जीवन को समृद्ध बनाने में भारतीय-अमेरिकियों के योगदान को उजागर करेगा और साथ ही बताएगा कैसे उन्होंने दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

यूएस में भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा, 'हाउडी, मोदी में दोनों नेताओं का संबोधन, ऐतिहासिक और अभूतपूर्व घटना है। यह न केवल रिश्ते में निकटता और आराम के स्तर को दर्शाता है, बल्कि प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप के बीच की दोस्ती को भी दिखाता है।'

इसे भी पढ़ें: दुनिया ने देखा इमरान का 'दोहरा चरित्र', उइगर मुसलमानों के उत्‍पीड़न पर बोले- मुझे नहीं पता

इसे भी पढ़ें: पाकिस्‍तान में हिंदू मंदिर में जमकर तोड़फोड़, प्रधानाचार्य पर किया गया हमला

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप