जेनेवा,एपी। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा है कि कोरोना वायरस के तेजी से प्रसार के बावजूद अभी जल्दबाजी में यह नहीं कहा जा सकता कि टोक्यो में होने वाला ओलंपिक इसके चलते रद होगा या इसके जगह में बदलाव होगा।

बता दें कि पिछले महीने ही डब्लूएचओ ने वायरस के प्रसार के मद्देनजर वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया था। इसके बाद भी टोक्यो में ओलंपिक के आयोजकों और अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने दोहराया है कि उनके पास कोई इसे लेकर आकस्मिक योजना नहीं है। ओलंपिक इस साल 24 जुलाई से 9 अगस्त के बीच होने वाला है। 

हम फैसला नहीं लेने वाले हैं-डब्लूएचओ

डब्लूएचओ के हेल्थ इमरजेंसी प्रोग्राम के हेड डॉक्टर माइक रेयान ने मंगलवार को कहा कि अभी ओलंपिक काफी दूर है ऐसे में अभी यह नहीं कहा जा सकता कि ओलंपिक के आयोजन पर वायरस का असर पड़ेगा या नहीं। हम इसे लेकर फैसला नहीं लेने वाले हैं।  रेयान ने संगठन के मुख्यालय में आयोजित न्यूज कांफ्रेंस के इतर न्यूज एजेंसी एपी को बताया कि वुहान में दिसंबर में वायरस का मामला सामने आने के बाद  आइओसी के साथ डब्लूएचओ लगातार संपर्क में रहा है। 

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 2000 ज्यादा

रेयान ने कहा,'हम फैसला नहीं करते, हम केवल जोखिम के बारे में उन्हें सलाह देते हैं। हम उनके साथ आने वाले हफ्तों और महीनों में काफी करीब से काम करेंगे। चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 2000 ज्यादा हो गई है। सबसे ज्यादा असर वायरस के केंद्र हुबेई प्रांत में देखने को मिला है। अभी तक 74,000 से ज्यादा मरीजों की संख्या हो गई है। वायरस का असर कई स्पोर्ट्स इवेंट्स पर पड़ा है। कई इवेंट्स इसके चलते रद हो गए हैं, तो कुछ को स्थगित भी करना पड़ा है या उनका आयोजन स्थल बदल गया है। चाइनीज एथिलिट और टीमों पर भी इसका काफी असर पड़ा है। वे कई स्पोर्ट्स इवेंट्स में इसके चलते शामिल नहीं हो सके हैं।

 

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस