वाशिंगटन, प्रेट्र। माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स ने जन स्वास्थ्य मामले में भारत की विशेषज्ञता की तारीफ की है। हालांकि उन्होंने शिशु स्वास्थ्य और जीवन दर में सुधार के लिए पोषण और स्वच्छता के क्षेत्र में और सुधार की जरूरत पर जोर भी दिया।

-पोषण और स्वच्छता के क्षेत्र में और सुधार की जरूरत पर जोर भी दिया

गेट्स ने भारत के जनस्वास्थ्य की कहानी को मिश्रित करार दिया और कहा कि इस देश ने जनस्वास्थ्य के लगभग हर क्षेत्र में प्रगति की है। हालांकि बाल स्वास्थ्य के कुछ क्षेत्र में भारत को अभी लंबी दूरी तय करनी है। गेट्स इस समय बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की अगुआई कर रहे हैं। उनकी यह संस्था दुनियाभर में कई परोपकारी कामों को अंजाम दे रही है।

उन्होंने कहा कि गेट्स फाउंडेशन साइंटिफिक एडवाइजरी बोर्ड में किसी भी देश के मुकाबले भारत के लोग सबसे ज्यादा हैं। वे हमारे लिए काफी मददगार हैं। किसी भी स्थान के मुकाबले यहां पर सबसे ज्यादा वैक्सीन तैयार की जाती है। गेट्स ने कहा, 'इस देश में लगभग हर चीज बेहतर हुई है। मुझे नहीं लगता है कि कोई चीज बदहाल है, लेकिन पोषण और स्वच्छता ऐसे क्षेत्र हैं जहां भारत को काफी कुछ करना है। इससे बाल स्वास्थ्य और जीवन दर को बेहतर किया जा सकता है।'

एक सवाल पर गेट्स ने कहा कि मुझे भारत जाना अच्छा लगता है। भारत एक जीवंत लोकतंत्र हैं, जहां अलग-अलग विचारों के लोग रहते हैं। उन्होंने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू का भी नाम लिया और कहा कि मैं उन्हें लंबे समय से जानता हूं।

 

Posted By: Bhupendra Singh