वाशिंगटन, एजेंसी। अमेरिका के इलिनोइस में अप्रैल सिख जागरुकता माह के रूप में मनाया जा रहा है। भारतीय-अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने इसको मान्यता देने के संबंध में संसदीय रिकार्ड में प्रस्ताव दर्ज कराया। उन्होंने सिख जागरुकता माह के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि सिख-अमेरिकन समुदाय के साथ घृणा अपराध और हिंसा बढ़ रही है।

सिख अमेरिका में 125 साल पहले आए

कृष्णमूर्ति ने संसद को संबोधित करते हुए कहा कि वह चाहते हैं कि अप्रैल माह को उनके गृह राज्य में सिख जागरुकता माह के रूप में मान्यता दी जाए। यह मान्यता समय की मांग है। सिख समुदाय के साथ बढ़ती हिंसा में ऐसा करके हम उन्हें सम्मान दे सकते हैं। हाल ही में 15 अप्रैल को इंडियानापोलिस में फेडलर एक्सप्रेस केंद्र पर तीन महिलाओं सहित चार सिखों की हत्या कर दी गई थी। सिख अमेरिका में 125 साल पहले आए थे। यहां उन्होंने कैलिफोर्निया में फॉर्म और वाशिंगटन में लकड़ी की मिलों में काम किया। सांसद कृष्णमूर्ति ने कहा कि सिख समुदाय ने अमेरिका में तमाम दिक्कतों के बाद भी अपनी देशभक्ति दिखाते हुए अमेरिकी सेना में भी सेवाएं दी हैं। सिख-अमेरिकन ने द्वितीय विश्व युद्ध, कोरियन और वियतनाम युद्ध में भी अपनी सेवा दी है।