संवादसूत्र, रायगंज : उत्तर दिनाजपुर जिला बार एसोसिएशन के चुनाव में तृणमूल समर्थित अधिवक्ता प्रत्याशियों ने सत्रह सीटों में से बारह सीटें जीतकर अपना परचम लहराया और बोर्ड पर पुन: काबिज होने में कामयाब रहे। भाजपा समर्थित वकीलों ने पहली बार दो सीटों पर जीत हासिल कर खाता खोलने में सफल हासिल की। काग्रेस समर्थित अधिवक्ताओं ने इस बार भी अपनी शाख बचाने में नाकामयाब रहे। उन्हें केवल तीन सीटों पर संतोष करना पड़ा और पूर्व की तुलना में दो सीटें गंवानी पड़ी. माकपा समर्थित अधिवक्ता संगठन इस बार चुनाव में भाग नहीं लिया.

गौरतलब है कि उत्तर दिनाजपुर जिला बार एसोसिएशन का चुनाव काफी गहमागहमी के साथ 20 सितंबर को संपन्न हुआ। 17 सीटों के लिए कुल 50 उम्मीदवार चुनावी दंगल में उतरे, इनमें तृणमूल एवं भाजपा अनुमोदित संगठन के 17 - 17 सदस्य एवं काग्रेस समर्थित संगठन के 12 प्रत्याशी शामिल हैं। अधिवक्ता संघ का चुनाव भले ही प्रत्यक्ष रूप से राजनीतिक नहीं हो लेकिन परोक्ष रूप से राजनीतिक तिकड़म से परे भी नहीं है। तृणमूल के कद्दावर नेता प्रदेश में अपनी हुकूमत की शाख को बचाने के लिए इस चुनाव में एड़ी चोटी एक कर दी वहीं भाजपा लोकसभा चुनाव में रायगंज सीट पर जीत हासिल करने के बाद बढ़ते हौसले को बरकरार रखने की कोशिश में कोई कसर नहीं छोड़ी। पार्टी के जिला नेतृत्व एवं सासद भी इस चुनाव में पूरी दमखम लगा दी। रायगंज विधानसभा सीट काग्रेस के कब्जे में होने के नाते काग्रेस नेतृत्व भी अपने प्रत्याशियों की जीत के लिए पीछे नहीं हटे। चुनाव के दिन सरगरमी आसमान पर था। 21 सितंबर को मतगणना प्रारम्भ हुआ लेकिन बीच बीच में आपसी तनाव इस कदर बढ़ जाता कि अंतिम परिणाम आते आते देर रात हो गई. चुनाव के नतीजे के अनुसार तृणमूल समर्थित विजेता प्रत्याशियों के नाम हैं - स्वरुप विश्वास, दिपतेश घोष, अजय कुमार दास, सायन चौधरी, शुभदीप मुखर्जी, अमर कुमार साहा, देवाशीष गुह, असीम कुमार राय, सुब्रत बसाक, बदरुजमना आदिल, शुभाशीष पाल व दीपक दास. काग्रेस के विजित रहे प्रताप कर, विश्वरूप मजूमदार एवं नारायण चंद्र घोष तथा भाजपा के जीतने वाले प्रत्याशी हैं ए.एस. दास व अनिमेष राय। तृणमूल लीगल सेल के अध्यक्ष स्वरुप बसाक ने बताया कि तृणमूल अधिवक्ताओं के कल्याण के लिए सदैव तत्पर रहता है इसलिए सभी ने अपना समर्थन दिया है। भाजपा लीगल जिला कमेटी के सदस्य असीम चंद ने कहा कि भाजपा पहली बार अपनी पैठ बनायी है, तृणमूल साम्राज्य बिखरते देर नहीं लगेगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप