संवाद सूत्र, मेदिनीपुर : पश्चिम मेदिनीपुर जनपद के मेदिनीपुर शहर अंतर्गत शेखपुरा इलाके में स्थापित सेंट जॉन चर्च का जीर्णोद्धार कार्य पूरा होने के बाद रविवार को उद्घाटन किया गया। इस मौके पर दुर्गापुर से आए राय क्लेवरेंट विशप प्रवाल कांत दत्त ने सुबह नौ बजे विशेष प्रार्थना सभा संपन्न कराई। गिरिजाघर प्रबंध समिति के सचिव प्रणव ¨सह ने कहा कि अंग्रेजी हुकूमत के दौरान 1857 में इस गिरिजाघर की स्थापना की गई थी। यहां पर क्रांतिकारियों के हाथों मारे गए मेदिनीपुर के तत्कालीन कलेक्टर रहे बर्ज पेडी व डगलस को दफनाया गया था। उन्होंने कहा कि उत्तर भारत में स्थित विभिन्न गिरिजाघरों में से इस गिरिजाघर की सदस्य संख्या सबसे कम है। मात्र सात परिवार ही हमारे सदस्य रह गए हैं। इसके चलते आर्थिक लाभ के लिए हमलोग मैदान को किराए पर देकर कार्य चलाते हैं। गिरिजाघर व संलग्न परिसर पुराना होने के कारण जीर्णशीर्ण हो गया था। 13.5 लाख रुपये में इसका जीर्णोद्धार कराने के बाद रविवार को एक बार फिर से खोला गया है। इस मौके पर समिति के कोषाध्यक्ष अशोका सेन के साथ चंद्रजीत हाजरा व बेली राय समेत अन्य लोग उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप