राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के बेलडांगा के रामेश्वरपुर गांव में कथित रूप से बम बनाते समय अचानक विस्फोट हो जाने से एक युवक की मौत हो गई जबकि पांच अन्य घायल हो गए। इस घटना से इलाके में दहशत का माहौल है। सूत्रों के अनुसार इस विस्फोट में मारे गए युवक का दाहिना हाथ उड़ गया और उसके सिर का हिस्सा बाहर निकल गया। मृतक की पहचान यासुद्दीन शेख उर्फ चांदी शेख के रूप में हुई है। यह घटना सोमवार देर रात की बताई जा रही है।

विस्फोट से एक घर की दीवार गिर गई है और एक युवक मलबे के नीचे दबा हुआ है

स्थानीय सूत्रों के अनुसार, गांव स्थित बगीचे के एक पंप हाउस में अचानक विस्फोट विस्फोट की आवाज से पूरा गांव हिल उठा। चारों तरफ काले धुएं का गुबार फैल गया। स्थानीय लोगों ने घटनास्थल का रुख किया तो, उन्होंने देखा कि विस्फोट से एक घर की दीवार गिर गई है और एक युवक मलबे के नीचे दबा हुआ है।

बम बनाने के दौरान यह घटना घटी हालांकि पुलिस ने अभीतक कुछ स्पष्ट नहीं किया है

उसका दाहिना हाथ उड़ गया था और उसके सिर का हिस्सा बाहर निकला हुआ था। घटना की खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मलबे में फंसे युवक के शव को निकाला और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। जांच में पता चला कि मृतक यासुद्दीन का घर बगल के मड्डाग्राम पंचायत क्षेत्र में है। अनुमान है कि बम बनाने के दौरान यह घटना घटी। हालांकि पुलिस ने इस बारे में अभी कुछ स्पष्ट नहीं किया है।

साकेट बम बनाने के दौरान यह विस्फोट हुआ जिसमें एक की मौत और पांच घायल हो गये

पुलिस का कहना है कि तमाम पहलुओं की जांच की जा रही है। इधर, इस घटना के बाद राज्य में मुख्य विपक्षी भाजपा ने ममता सरकार को घेरते हुए राज्य में बम उद्योग को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सांसद दिलीप घोष ने ट्वीट कर दावा किया कि साकेट बम बनाने के दौरान यह विस्फोट हुआ जिसमें एक की मौत हो गई और पांच घायल हो गए।

जिलों में रोजगार पैदा करने की बजाय बम उद्योग को लोकप्रिय बनाने के लिए बधाई

उन्होंने सवाल किया कि विभिन्न जिलों में बम विस्फोट की ऐसी घटनाओं का क्या अर्थ है? आगे उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि विभिन्न जिलों में रोजगार पैदा करने की बजाय बम उद्योग को लोकप्रिय बनाने के लिए मुख्यमंत्री को बधाई। इधर, स्थानीय लोगों के अनुसार कुछ असामाजिक तत्व गांव में अशांति फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। स्थानीय लोगों ने इस घटना के पीछे साजिश करार दिया है और इसके पीछे जिम्मेदार लोगों को कड़ी सजा देने की मांग की है। बेलडांगा थाने की पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है। पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इसके पीछे कौन लोग शामिल हैं।

Edited By: Vijay Kumar