जागरण संवाददाता, हावड़ा : चोर के संदेह में एक युवक को सामूहिक पिटाई की गई है। पेड़ से बांधकर की गई पिटाई में युवक की मौत हो गई। मृतक की पहचान मोहम्मद इरशाद के रूप में हुई है। वह नदिया जिले का निवासी बताया गया है। मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। उसका नाम नूर आलम है। हालांकि पुलिस ने सामूहिक पिटाई में हत्या की बात से इन्कार किया है। उक्त घटना मालीपांचघड़ा थाना के सलकिया विवेकानंद स्पोर्टिग क्लब के मैदान में रविवार की सुबह घटी है।

मिली जानकारी के अनुसार सलकिया स्थित विवेकानंद स्पोर्टिग क्लब के मैदान के निकट इलेक्ट्रानिक उपकरण का गोदाम है। रविवार तड़के करीब चार बजे युवक को गोदाम के निकट संदिग्ध हालत में घूमते हुए देखा गया। चोर होने के संदेह में स्थानीय लोगों ने युवक को पकड़ लिया और उसकी पिटाई करते हुए पास के एक पेड़ के पास ले गए और वहां उसे पेड़ से बांध दिया गया।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार चोर के संदेह में लोगों ने पेड़ से बंधे युवक की लाठी व डंडे से सामूहिक पिटाई की। इससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया। शरीर के कई स्थानों पर चोट लगने के कारण वह अचेत होने लगा। इधर युवक को पिटता देख कुछ लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने जख्मी युवक को घुसुड़ी स्थित टीएल जायसवाल अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

घटनास्थल पर पहुंचे पुलिस उपायुक्त (उत्तर) वाई रघुवंशी ने कहा कि मामले में कार्रवाई करते हुए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। बाकी आरोपितों की शिनाख्त के लिए मौके पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है। तीन से चार और लोगों का नाम सामने आए हैं। कहा, उम्मीद है जल्दी ही मारपीट में शामिल बाकी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। रघुवंशी ने सामूहिक पिटाई के मामले से इन्कार करते हुए कहा कि आपसी किसी मसले के कारण घटना को अंजाम दिया गया है। मामले की जांच के लिए गिरफ्तार आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। बता दें कि सामूहिक पिटाई के खिलाफ राज्य सरकार ने कड़े कानून बनाए हैं। ऐसे मामले में दोषी पाए जाने पर मृत्यदंड का प्रावधान है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप