राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल विधानसभा चुनाव में टीएमसी की जीत के बाद हुगली जिले में हिंसा भड़क गई है। जिले के आरामबाग में भाजपा दफ्तर में आग लगा दी गई। भाजपा ने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर पार्टी कार्यालय में आग लगाने का आरोप लगाया है। हालांकि, टीएमसी ने इन आरोपों को खारिज किया है। जानकारी के मुताबिक हुगली जिले के आरामबाग में भाजपा का दफ्तर फूंक दिया गया।

यहां टीएमसी कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। बता दें कि इससे पहले शाम को टीएमसी कार्यकर्ताओं ने कोलकाता स्थित भाजपा प्रदेश कार्यालय के बाहर हंगामे की कोशिश की। बंगाल में जीत के बाद तृणमूल सुप्रिमो ममता बनर्जी ने कहा कि अभी जीत का जश्न नहीं मनाएंगे। साथ ही उन्होंने समर्थकों से अपील की कि अभी कहीं भी कोई विजय जुलूस नहीं निकाला जाए और समर्थकों से घर जाने की अपील की। इसके बावजूद राज्य में कई जगहों पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा हंगामा मचाने की खबरें हैं।

भाजपा दफ्तर के सामने तृणमूल की जीत का जश्न

राज्य ब्यूरो, कोलकाता: बंगाल के चुनावी दंगल में ममता बनर्जी की नेतृत्ववाली तृणमूल कांग्रेस की भारी जीत के बाद तृणमूल कांग्रेस समर्थक चुनाव आयोग के कोरोना महामारी को लेकर जारी दिशानिर्देशों का उल्लंघन करते हुए भाजपा दफ्तर के निकट जश्न मनाने के लिए पहुंच गए। जिससे आयोग काफी नाराज है।

बंगाल के अलग-अलग इलाकों से अब तृणमूल कार्यकर्ताओं की ओर से जश्न की खबरें सामने आईं। कई जगहों पर तृणमूल के समर्थक सड़कों पर आ गए। हालांकि कोरोना की वजह से आयोग ने जश्न पर रोक लगा रखी है। वहीं चुनाव के नतीजों के बीच बंगाल के सत्तारूढ़ दल तृणमूल समर्थक हेस्टिंग में भाजपा दफ्तर के बाहर पहुंच गए और अबीर व गुलाल लगाने के साथ-साथ और नारेबाजी करने लगे।

यहां बताते चलें कि कुछ दिन पहले ही चुनाव वाले राज्यों के मुख्य सचिवों को आयोग की ओर से जीत का जश्न मनाने पर तत्काल रोक लगाने का निर्देश दिया था। चुनाव आयोग ने निर्देश जारी किए हैं कि यदि कहीं भी जश्न मनता है तो इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके बावजूद जश्न मनाए जाने की मीडिया रिपोर्ट को आयोग ने संज्ञान लेते हुए कार्रवाई की बात कही है।

Edited By: Vijay Kumar