जागरण संवाददाता, कोलकाता। पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्यवृद्धि, रुपये के अवमूल्यन समेत विभिन्न मुद्दों को लेकर सोमवार को वाममोर्चा व कांग्रेस की ओर से बुलाया गया छह घंटे का 'भारत बंद' पश्चिम बंगाल में पूरी तरह बेअसर रहा। कुछ जगहों पर छिटपुट ¨हसा, सड़क व ट्रेन अवरोध जैसी घटनाओं को छोड़ दिया जाए तो बाकी सबकुछ सामान्य रहा। सड़कों पर आम दिनों की तरह वाहन दौड़ते दिखे। ट्रेन व विमान सेवाओं पर कोई असर नहीं पड़ा। दुकान-बाजार, स्कूल-कालेज खुले रहे। बंगाल में व्यावसायिक गतिविधियों के केंद्रबिंदु बड़ाबाजार में आम दिनों की तरह कारोबार हुआ। बैरकपुर शिल्पांचल में भी कामकाज सामान्य रहा।

उत्तर बंगाल के चाय बगानों में भी बंद के बेअसर रहने की खबर है। राज्य सचिवालय नवान्न में 95 फीसद उपस्थिति दर्ज हुई। वहीं सरकारी कार्यालयों में 97 फीसद मौजूदगी रही। गौरतलब है कि राज्य सरकार की ओर से अपने कर्मचारियों को काम पर आने का सख्त निर्देश दिया गया था। सोमवार को वामो व कांग्रेस की ओर से जहां कोलकाता समेत विभिन्न जिलों में बंद के समर्थन तो सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की ओर से बंद के मुद्दों के समर्थन में रैली निकाली गई। बंद पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने फिर कहा कि हम मुद्दों का समर्थन करते हैं, बंद का नहीं।

वहीं, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि बंद का विरोध करके ममता बनर्जी भाजपा के हाथ मजबूत कर रही है। इससे इतर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि बंगाल सरकार जनता की हमदर्द बनने की कोशिश करती है तो महाराष्ट्र और गुजरात की तरह पेट्रो पदार्थों पर लगा वैट क्यों नहीं कम करती? जीएसटी का बंगाल में सबसे ज्यादा विरोध किया गया जबकि इससे सबसे ज्यादा फायदा इसी राज्य को हो रहा है। बंगाल सरकार नाटक करके लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रही है।

कई जगह रोकी गईं ट्रेनें
वामो समर्थकों ने हुगली के रिसड़ा, कोलकाता के जादवपुर स्टेशन और सियालदह डिवीजन के लक्ष्मीकांतपुर सेक्शन में ट्रेनें रोकीं। मालदा जिले के गाजोल के एकलाखी स्टेशन पर मालदा-मटिहार पैसेंजर को रोक दिया गया। इसी तरह हावड़ा आ रही अग्निवीणा एक्सप्रेस को भी दुर्गापुर में कुछ देर के लिए रोक दिया गया। बारासात में अप बनगांव लोकल को भी अवरुद्ध किया गया।

जादवपुर में फूंका गया पीएम मोदी का पुतला
बंद समर्थकों ने जादवपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उनका पुतला फूंका। उन्होंने पेट्रोल-डीजल के दाम घटाने के लिए अविलंब जरुरी कदम उठाने की मांग की।

दमदम कंटोनमेंट में कांग्रेस समर्थकों ने पथावरोध किया गया। हावड़ा में बंद समर्थकों ने एक बस में तोड़फोड़ की। इंटाली से वामो की रैली निकली, जिसमें वामो चेयरमैन विमान बोस, माकपा के राज्य सचिव सूर्यकांत मिश्र, सांसद मोहम्मद सलीम और विधायक सुजन चक्रवर्ती समेत अन्य शामिल हुए।

 

Posted By: Preeti jha