संवाद सूत्र, नदिया। चाकदह युवा तृणमूल कांग्रेस के 12 नंबर वार्ड के सभापति सुधीन सोम (42) की नृशंस तरीके से हत्या किये जाने की घटना को केंद्र कर बुधवार शाम पूरे चाकदह शहर में उत्तेजना फैल गई। आरोप है कि पड़ोसी शुभंकर मजुमदार ने ही धान काटने वाली हंसुआ से उसकी हत्या कर दी है।

बुधवार शाम तीन बजे हत्या की घटना को अंजाम दिया गया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक जिस हंसुआ से आरोपी ने तृणमूल नेता की हत्या की थी उसी हंसुआ को दिखाकर लोगों को डराया। फिर एक व्यक्ति से साईकिल छीनकर भाग निकला। बाद में गौरनगर घाट पर उसका साईकिल पाया गया। अनुमान है कि वह नाव से नदी पार भाग गया है। इस घटना के बाद आक्रोशित जनता उसके घर में आग लगा दी।

सूचना पाकर चाकदह थाना की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस कर्मियों के प्रयास से स्थिति पर काबू किया जा सका जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जा में लिया। आरोप है कि दोनों के बीच पहले से ही मनमुटाव था। घटना वाले दिन दोनों के बीच झगड़ा हुआ। इसी दौरान शुभंकर ने हंसुआ से उसपर हमला कर दिया। खुद के बचाव के लिए सुधीर सोम ने शोर मचाया लेकिन लोग कुछ कर पाते इससे पहले उसका काम तमाम हो गया।

चाकदह की तृणमूल विधायक तथा मंत्री घोष कर ने आरोप लगाया कि शुभंकर भाजपा कार्यकर्ता है। लोकसभा चुनाव से पहले इलाके में अपना आतंक फैलाने के लिए तृणमूल कर्मी की हत्या की गई है। वही भाजपा ने इस आरोप को खारिज करते हुए कहा कि पड़ोसियों की आपसी विवाद के कारण हत्या की यह घटना हुई है। हत्या से किसी पार्टी का कोई संपर्क नहीं है। 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Preeti jha