राज्य ब्यूरो, कोलकाता। Uttar Pradesh Election: तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने बुधवार को कांग्रेस पार्टी के उस निर्णय का मजाक उड़ाया जिसमें पार्टी ने उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव में 40 फीसद महिला प्रत्याशी उतारने का निर्णय लिया है।तृणमूल ने उम्मीद जताई कि उसकी नीति की नकल कर कांग्रेस ने केवल दिखावा नहीं किया होगा। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को घोषणा की थी कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 40 फीसद टिकट महिलाओं को देगी।

तृणमूल की ओर से ट्वीट किया गया, ममता बनर्जी के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस ने वह रास्ता दिखाया जिसने देश की राजनीति में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने का काम किया है। हम पहली पार्टी थे जिसने लोकसभा चुनाव में महिलाओं को 40 फीसद सीटें दीं। पार्टी ने कहा, ऐसे कठिन समय में, कांग्रेस इसी का अनुकरण करने का प्रयास कर रही है और हमें उम्मीद है कि यह केवल दिखावा नहीं होगा बल्कि असल में किया जाएगा। अगर वे इसे गंभीरता से लेते हैं तो उन्हें उत्तर प्रदेश के अलावा अन्य राज्यों में भी 40 फीसद सीटें महिलाओं को देनी चाहिए। दरअसल, ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली पार्टी की ओर से यह आलोचना ऐसे समय की गई है जब कांग्रेस और टीएमसी दोनों ही भारतीय जनता पार्टी के विरुद्ध विपक्ष की अगुवाई करने का प्रयास कर रही हैं।

तृणमूल से सीख लेने की जरूरत नहीं : कांग्रेस

इधर, तृणमूल कांग्रेस के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रदीप भट्टाचार्य ने कहा कि पार्टी को राजनीति में महिला सशक्तिकरण पर तृणमूल से सीख लेने की जरूरत नहीं है।उन्होंने कहा, यह तृणमूल कांग्रेस है, जो कांग्रेस का अनुकरण करने की कोशिश कर रही है और हमारे नेताओं को अपने पाले में खींचने का प्रयास कर रही है। 

Edited By: Priti Jha