कोलकाता, राज्य ब्यूरो। बंगाल में भारत-बांग्लादेश सीमा के जरिए गो तस्करी मामले की जांच अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी करेगा। इसके साथ ही बंगाल सहित कई राज्यों में फैले कोयला तस्करी के जाल एवं कोयला माफिया अनूप माजी उर्फ लाला के काले कारनामों एवं मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले की जांच भी ईडी शुरू करेगा। बताते चलें गो तस्करी व कोयला तस्करी मामले की जांच पहले से केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआइ) तथा आयकर विभाग कर रहे हैं।

इधर, कोयला तस्करी के मामले में आयकर विभाग ने बुधवार को एक बार फिर कोयला माफिया लाला के करीबियों के पांच ठिकानों पर छापेमारी की। यह छापेमारी बंगाल में अलग-अलग स्थानों पर की गई। दूसरी ओर, सूत्रों के अनुसार ईडी ने गो व कोयला तस्करी मामले की जांच के लिए दो जोन में बांटा है। इसकी जांच के लिए कुछ विशेष अधिकारियों की नियुक्ति की जाएगी। गौरतलब है कि गो तस्करी मामले में सीबीआइ ने पिछले महीने 17 नवंबर को बीएसएफ के कमांडेंट सतीश कुमार को गिरफ्तार किया था। गो तस्करी के कथित सरगना इनामुल हक ने भी पिछले सप्ताह सीबीआइ अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया था।

इस बीच सीबीआइ ने इस मामले में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के चार और अधिकारियों को मंगलवार को तलब किया था और उन सभी से पूछताछ कर रही है। ये चारों अधिकारी बीएसएफ के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर से संबद्ध रहे हैं। इसमें एक डीआइजी स्तर के अधिकारी हैं जबकि दो सहायक कमांडेंट एवं एक डिप्टी कमांडेंट हैं। दरअसल, बीएसएफ अधिकारियों के गो तस्करों के साथ कथित संबंध बताए जा रहे हैं।

आरोप है कि बीएसएफ अधिकारी मवेशियों को सीमा पार कराने में तस्करों की मदद करते थे जिसके बदले उन्हें मोटी रकम मिलती थी। तस्करों के साथ संबंधों को लेकर बीएसएफ कस्टम के करीब एक दर्जन अधिकारी सीबीआइ की रडार पर हैं। दूसरी ओर, कोयला तस्करी मामले में सीबीआइ ने पिछले दिनों प्रसिद्ध कोयला माफिया लाला व उसके करीबियों के 45 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की थी।यह छापेमारी बंगाल के आसनसोल, रानीगंज, कोलकाता, पुरुलिया समेत झारखंड के धनबाद व अन्य जगहों पर की गई थी। कोयला तस्करी के मामले में सीबीआइ ने लाला के साथ संबंधों को लेकर ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (ईसीएल) के कुछ अधिकारियों के ठिकानों पर भी छापेमारी की थी। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021