राज्य ब्यूरो, कोलकाता। लेकटाउन थानांतर्गत बांगुड़ इलाके में एक वृद्धा की हत्या के आरोप में पुलिस ने उसके नौकर को गिरफ्तार किया है। अभियुक्त का नाम दिनेश प्रसाद है। पुलिस ने उसे यूपी के बदायूं से गिरफ्तार किया है। पुलिस का प्राथमिक अनुमान है कि लूट के उद्देश्य से वृद्धा की हत्या की गयी है। मृत वृद्धा का नाम दीपा मुखर्जी उर्फ देवजानी सिंह (62) है।

जानकारी के अनुसार लेकटाउन के बांगुर इलाके के बी ब्लॉक में वृद्धा दीपा मुखर्जी अकेली रहती थी। कुछ दिनों पहले से वृद्धा से उसके रिश्तेदार संपर्क नहीं कर पा रहे थे। दीपा का फोन भी कोई नहीं उठा रहा था। बाध्य होकर उसके रिश्तेदार घर पर पहुंचे। स्थानीय लोगों के साथ रिश्तेदार जब दीपा के घर पर पहुंचे तो दरवाजा खटखटाने पर भी दरवाजा नहीं खुला। धक्का देने पर वृद्धा के कमरे का दरवाजा खुला तो उन्होंने देखा कि एक कमरे में वृद्धा का सड़ा गला शव पड़ा है। उसके गले में गमछा बंधा हुआ है। पूरे घर में सामान बिखरे पड़े हैं। घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दी गयी।

पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमॉर्टम की प्राथमिक रिपोर्ट में पता चला कि गला घोटकर वृद्धा की हत्या की गयी है। पुलिस ने जांच के दौरान पाया कि घटना के बाद से वृद्धा का नौकर फरार है। इसके बाद ही पुलिस ने अभियुक्त की तलाश शुरू की। वृद्धा की बेटी ने अपनी शिकायत में बताया कि कुछ महीने पहले उसकी मां मुंबई गयी थी। मुंबई के होटल में उसकी मुलाकात अभियुक्त दिनेश प्रसाद से हुई थी।

वृद्धा के कोलकाता लौटने के बाद दिनेश भी नौकरी की तलाश में कोलकाता आया और उसकी मां ने उसे काम पर रख लिया। इधर, मामले की जांच के दौरान पुलिस ने पाया कि दिनेश ने ही उसकी हत्या की और घर से आभूषण और नकद रुपये लेकर फरार हो गया। पुलिस ने मामले की जांच के दौरान अभियुक्त को धर-दबोचा। 

Edited By: Priti Jha