राज्य ब्यूरो, कोलकाता । कोलकाता पुलिस ने सोमवार से शुरू हुए दुर्गा पूजा उत्सव के दौरान किसी भी आतंकवादी हमले को नाकाम करने के लिए अपने विशेष बलों के कमांडो की तैनाती सहित सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उत्सव के दौरान विभाजनकारी और आतंकवादी संगठनों के शांति एवं सद्भाव को बिगाड़ने के खतरों को देखते हुए सभी प्रकार के एहतियाती उपाय किए गए हैं। कोलकाता पुलिस ने शहर में 38 बिंदुओं पर अपने लड़ाकू बटालियन और विशेष मारक (स्ट्राइकिंग) बल के कमांडो और 31 त्वरित गश्ती दलों को तैनात करने का फैसला किया है।

आइपीएस अधिकारी ने कहा, इस साल दुर्गा पूजा उत्सव के दौरान महानगर और उसके आसपास त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। शहर के दक्षिण और दक्षिण-पश्चिम हिस्सों में तीन संभागों में, हमारे पास कम से कम 18 गश्ती दल होंगे और शेष समूह उत्तर और मध्य कोलकाता में तैनात रहेंगे। कम से कम 13 त्वरित प्रतिक्रिया दल भी तैनात किए गए हैं। गौरतलब है कि हाल में केंद्र सरकार ने दुर्गा पूजा में आतंकी हमले की आशंका जताते हुए बंगाल समेत कई राज्यों को अलर्ट जारी किया है। इसके बाद बंगाल सरकार ने आतंकवादी खतरों का हवाला देते हुए राज्य में दुर्गा पूजा उत्सव के मद्देनजर पुलिस को ‘अलर्ट’ पर रखा है।

अधिकारी ने बताया कि प्रमुख चौराहों पर कम से कम 13 विशेष हेवी रेडियो फ्लाइंग स्क्वाड (एचआरएफएस) को तैनात किया गया है। मेट्रो स्टेशनों, बाजारों, शापिंग माल, लोकप्रिय स्मारकों और महत्वपूर्ण सरकारी कार्यालयों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सभी सामुदायिक पूजा समितियों को पंडालों में पर्याप्त संख्या में स्वयंसेवकों को तैनात करने को कहा गया है ताकि संदिग्ध व्यक्तियों की आवाजाही पर नजर रखी जा सके और किसी भी आपात स्थिति में पुलिस को समय रहते सूचित किया जा सके। साथ ही बड़े दुर्गा पूजा पंडालों में सीसीटीवी कैमरे और ‘वाचटावर’ स्थापित करना भी अनिवार्य है। 

Edited By: Priti Jha