मालदा, संवाद सूत्र। अवैध संबंध को लेकर पति ने सात माह की गर्भवती पत्नी को दस दिन पहले जिंदा जला दिया। दस दिनों तक मालदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझते हुए अनजिमा बीबी (20) की मौत हो गई। यह घटना मोथाबाड़ी थाना के उत्तर लखीपुर के देवीपुर के दियारा इलाके की है।

इस घटना के बाद से आरोपित पति साजिजुल शेख व उसके परिवारवाले फरार है। साजिजुल शेख पेशे से टोटो चालक है। स्थानीय लोगों ने बताया कि चार साल पहले विवाह हुआ। एक बेटी भी है। साजिजुल का अपनी भाभी के साथ अवैध संबंध था। इसे लेकर अनजिमा ने विरोध किया।

विरोध करने पर अनजिमा को शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताडि़त करने लगे। विगत 10 अगस्त को रसोई घर में गैस सिलेंडर का ढक्कन खोल दिया और माचिस जला दिया। बाद में इसे आत्महत्या बताकर परिजनों ने अनजिमा को मालदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भर्ती करवाया।

चिकित्सकों ने सिजर के द्वारा एक बच्चे को जन्म करवाया। लेकिन दो दिन के बाद नवजात बच्ची ने भी दम तोड़ दिया। चिकित्साधीन अनजिमा ने भी बुधवार की सुबह दम तोड़ दिया। अनजिमा के परिवारवालों की ओर से आरोपित पति सहित तीन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पूरे मामले की छानबीन शुरू हो गई है। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप