राज्य ब्यूरो, कोलकाता। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (पीके) ने गोवा यात्रा के दौरान भाजपा को लेकर भविष्यवाणी करके सियासी सरगर्मी को एक बार फिर तेज कर दिया है।भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'नहीं समझने' को लेकर किशोर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को खरी-खरी सुनाई है। उन्होंने कहा कि भाजपा आने वाले कई दशकों तक भारतीय राजनीति में ताकतवर बनी रहेगी। पोल कंसल्टेंसी फर्म इंडियन पालिटिकल एक्शन कमेटी (आइपैक) के प्रमुख ने आगे कहा कि भाजपा को हराने के लिए अभी कई दशकों तक लड़ना होगा।

उन्होंने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वे मोदी को सत्ता से हटाने के भ्रम में न रहें।मोदी युग के अंत का इंतजार करना राहुल की गलती है।प्रशांत किशोर ने यह बयान ऐसे समय में दिया है जब बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी गुरुवार को गोवा के दौरे पर जा रही हैं। पीके भी अभी गोवा में ही हैं और वहां अगले साल विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की जमीन तैयार करने में जुटे हैं।

चुनावी रणनीतिकार के रूप में प्रशांत किशोर का कद उस वक्त और बढ़ गया, जब ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी को इस साल की शुरुआत में उन्होंने बंगाल में हुए विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत दिलाने में मदद की थी। किशोर ने कांग्रेस के संबंध में कहा कि वो (राहुल गांधी) इस भ्रम में थे कि ये नरेंद्र मोदी की सत्ता खत्म होना सिर्फ समय की बात है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया भाजपा आने वाले दशकों में राजनीति के केंद्र में रहने वाली है। चाहे वे जीतें, चाहे वे हारें। ये बिल्कुल वैसे है जैसा कांग्रेस के लिए शुरूआती 40 वर्षों में था।

उन्होंने कहा- भाजपा कहीं नहीं जा रही है। राष्ट्रीय स्तर पर अगर आप 30 फीसद वोट सुरक्षित कर लेते हैं तो आप जल्द कहीं नहीं जा रहे। गोवा में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि इस झांसे में पड़ने की जरूरत नहीं है कि लोग नाराज हो रहे हैं और नरेंद्र मोदी को सत्ता से बाहर कर देंगे। भाजपा कहीं नहीं जा रही है। आपको अगले दशकों तक इससे लड़ना होगा।

समस्या राहुल के साथ

किशोर ने कहा कि समस्या राहुल गांधी के साथ है। शायद उन्हें लगता है कि यह बस समय की बात है, जब लोग उन्हें (नरेंद्र मोदी) सत्ता से बाहर कर देंगे।ऐसा नहीं हो रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि जब तक आप उनकी ताकत की जांच और परख नहीं कर लेते, आप उन्हें हराने के लिए काउंटर नहीं कर सकते। लोगों के साथ समस्या इस बात की है कि वो उनकी (नरेंद्र मोदी) ताकत को समझने के लिए समय नहीं दे रहे हैं, ऐसा क्या है जो उन्हें लोकप्रिय बना रहा है। अगर आप इस बात को जानते हैं तो आप उन्हें काउंटर कर सकते हैं।

एक तिहाई लोग भाजपा के साथ

कांग्रेस पार्टी नरेंद्र मोदी और भाजपा के भविष्य को कैसे देखती है, इस पर किशोर ने कहा, आप किसी भी कांग्रेस नेता या किसी क्षेत्रीय नेता से जाकर बात करें, वे कहेंगे, बस समय की बात है। वो कहते हैं- लोग तंग आ रहे हैं और केंद्र सरकार के खिलाफ लहर के चलते वो सत्ता से उन्हें बाहर कर देंगे। किशोर ने कहा कि मुझे इस बात पर शक है। यह नहीं हो रहा है। उन्होंने खंडित मतदाता की तरफ इशारा करते हुए कहा कि केवल एक तिहाई लोग भाजपा को वोट दे रहे हैं, या भाजपा का समर्थन करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि समस्या यह है कि दो-तिहाई वोटर्स का पक्ष इतना खंडित है कि यह 10, 12 या 15 राजनीतिक दलों में बंटा हुआ है। यही है जो कांग्रेस के पतन की वजह है। 65 फीसद वोट बैंक खंडित है और कांग्रेस का समर्थन खत्म हो गया है। ये छोट-छोटे दलों में बंटा हुआ है।

Edited By: Priti Jha