राज्य ब्यूरो, कोलकाता। IIM Calcutta. इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आइआइएम) कलकत्ता की 2020 एमीबीए पाठ्यक्रम के छात्रों की प्लेसमेंट प्रक्रिया में नए रिकार्ड कायम हो गया। इस प्लेसमेंट में छात्रों को नौकरी के लिए जो प्रस्ताव मिले हैं उसका औसतन वेतन 28 लाख रुपये प्रतिवर्ष है जो अब तक का सर्वाधिक है। इस प्लेसमेंट प्रक्रिया में छात्रों को कई कंपनियों ने लाखों रुपये के पैकेज दिए हैं। इसके के तहत छात्रों को प्रति वर्ष औसतन 28 लाख रुपये का रिकॉर्ड वेतन मिलेगा।

संस्थान ने बताया कि 439 छात्रों को प्लेसमेंट प्रक्रिया में शामिल 136 कंपनियों से 492 पेशकश मिली हैं। आइआइएम ने एक बयान में कहा,'कक्षा के शीर्ष 10 प्रतिशत के लिए औसत वार्षिक वेतन पैकेज 54.5 लाख रुपये का है, जो अभी तक का सबसे अधिक है।' इससे पहले कक्षा में अव्वल रहने वाले छात्रों को औसतन 41.8 लाख प्रतिवर्ष का पैकेज मिलता था और ओवरऑल में 25.5लाख की पेशकश मिलती थी। अक्टूबर 2019 में आयोजित ग्रीष्मकालीन प्लेसमेंट में जो सिलसिला बना था वह इस समय भी जारी रहा और परामर्श क्षेत्र 31 प्रतिशत की पेशकश के साथ सबसे बड़ा नौकरी दाता सेक्टर था।

बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप, मैकिन्से एंड कंपनी, बैन एंड कंपनी, केर्नी, प्राइसवाटरहाउसकूपर्स और एक्सेंचर सेगमेंट में शीर्ष नौकरीदाता कंपनी थे। मार्की फाइनेंस, प्राइवेट इक्विटी और वेंचर कैपिटल फमरें ने 83 ऑफर दिए। कई स्थापित नाम जैसे बैंक ऑफ अमेरिका, मेरिल लिंच, बार्कलेज, गोल्डमैन सैक्स, अरगा इनवेस्टमेंट मैनेजमेंट, गाजा कैपिटल, जेपी मॉर्गन चेस जैसी कंपनियों ने संस्थान के 55 वें बैच के छात्रों को ऑफर देने में शीर्ष भूमिकाएं निभाई।

एक अन्य प्रमुख बी-स्कूल, एक्सएलआरआई, ने कहा कि उसने 2019 में 22.35 लाख रुपये से 24.30 लाख रुपये सालाना की औसत वेतन वृद्धि के साथ 2020 बैच के अपने छात्रों के लिए 100 प्रतिशत प्लेसमेंट दर्ज किया है। संस्थान ने कहा कि 108 कंपनियों ने छात्रों को 362 घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नौकरी के प्रस्ताव दिए हैं।

बंगाल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस