जागरण संवाददाता, कोलकाता । दक्षिण 24 परगना जिले के विष्णुपुर थानांतर्गत चामनी में एक युवक की धारदार हथियार से हत्या करने के बाद शव उसके पिता को सौंपने की हृदय विदारक घटना प्रकाश में आई है। मृतक की पहचान रमजान मल्लिक (28) के रूप में हुई। वह पेशे से जरी का कारीगर है।

उधर, लोगों ने आरोपित को पकड़ कर सामूहिक पिटाई के बाद पुलिस को सौंप दिया, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसका नाम उबाई दूल्ला मोल्ला उर्फ कालू (32) है। रविवार को कालू को अलीपुर अदालत में पेश किया गया, जहां से पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

जानकारी के मुताबिक चामनी निवासी रमजान और कालू के परिवारों के बीच लंबे समय से छोटे-छोटे मुद्दों को लेकर विवाद चल रहा था। शनिवार को ईद के अवसर में कालू ने रमजान को साथ शराब पीने के लिए घर से बुलवाया था। आरोप है कि दोनों ने साथ में काफी शराब पी। इसके बाद कालू ने धारदार चाकू से रमजान पर ताबड़तोड़ वार करने शुरू कर दिए। रमजान चीखता रहा और कालू उसके पेट और सीने में चाकू से वार करता गया। खून से लथपथ रमजान वहीं जमीन पर गिर कर दम तोड़ दिया।

इसके बाद कालू खून से सने रमजान के शव को घसीटते हुए उसके घर से सामने लाकर फेंक दिया। यही नहीं, घर से उसके पिता को आवाज लगा कर बाहर बुलाया और शव सौंप दिया। बेटे का शव देख पिता और परिजनों चीखने चिल्लाने लगे। यह देख स्थानीय लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। लोगों ने कालू को पकड़ लिया और जमकर सामूहिक पिटाई की।

वहीं, रमजान को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना पुलिस को दी। जब तक पुलिस मौके पर नहीं पहुंची, तब तक लोग कालू की पिटाई करते हुए। जब पुलिस पहुंची, तो कालू को सौंप दिया। पुलिस ने कालू को गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। हालांकि घटना के बाद से कालू का परिवार घर बंद कर फरार है।

शनिवार को रमजान की हत्या से नाराज लोगों ने रविवार को आरोपित कालू के घर हमला कर दिया। घर में जमकर तोड़फोड़ करने के बाद आग लगा दी। बाद में खबर पाकर पुलिस और दमकल कर्मी मौके पर पहुंचे। लोगों को किसी तरह समझा बुझा कर शांत कराया। साथ ही घर में लगी आग भी बुझाई।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप