जागरण संवाददाता, कोलकाता : हरियाणा व महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव परिणाम पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल सांसद मिमी चक्रवर्ती ने कहा कि जनता काम को देख मतदान करती है और हरियाणा और महाराष्ट्र के परिणाम ने इस बात को साबित किया है। भाजपा के इन दोनों राज्य में प्रदर्शन को ले पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वे इस विषय पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगी। लोकतंत्र में जनता जनार्दन ही सर्वोपरि है और सभी को उनका सम्मान करना चाहिए। वहीं सियासी हलकों में चर्चा है कि प्रशात किशोर के परामर्श पर ही तृणमूल सुप्रीमो ने अपने नेताओं व सांसदों को सियासी टिप्पणी से बचने को कहा है और यही वजह है कि पार्टी सांसद मिमी चक्रवर्ती ने प्रतिक्रिया देने से इन्कार कर दिया। सियासी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के संपर्क में आने के बाद से ही राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के तेवर में भी बदलाव देखने को मिला है। राज्य में बढ़ते भाजपा के वर्चस्व को कम करने को मुख्यमंत्री अब लोगों की मानसिकता के अनुसार टिका-टिप्पणी कर रही हैं यानी तृणमूल के हर सियासी दांव पर पीके प्रभावी हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस