कोलकाता, जागरण संवाददाता। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने तृणमूल प्रमुख व बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को पत्र लिखकर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) व राष्ट्रीय नागरिक पंजी (सीएए) के खिलाफ चलाए जा रहे आंदोलन के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया है। पवार ने कहा है कि सीएए-एनआरसी के खिलाफ आपके द्वारा चलायी जा रही मुहिम में मैं आपके साथ हूं। इससे पहले 23 दिसंबर को ममता बनर्जी ने शरद पवार को पत्र लिखकर सीएए और एनआरसी पर समर्थन की अपील की थी।

राज्य सचिवालय नवान्न सूत्रों के अनुसार ममता को पवार ने 27 दिसंबर को पत्र भेजा है जिसमें उन्होंने कहा है कि मुझे 23 दिसंबर, 2019 को आपका पत्र प्राप्त हुआ। आपने पूरे देश में वर्तमान में व्याप्त गंभीर परिस्थितियों को लेकर चिंता व्यक्त की है जो स्वभाविक है और मैं आपकी चिंता से पूरी तरह से सहमत हूं। सीएए और देशव्यापी एनआरसी के कार्यान्वयन के खिलाफ विरोध करने के लिए सभी समान विचारधारा वाले नेताओं और दलों को साथ आना होगा, हमें एकजुटता से खड़ा होने की प्रतिज्ञा लेनी होगी। पवार ने आगे कहा है कि केंद्र सरकार के खिलाफ हमें लोकतंत्र के हित में ठोस योजना बनानी होगी। यदि इसे लेकर कोई भी बैठक बुलाई जाती है तो उसमें मुझे शामिल होकर बेहद खुशी होगी और इस संबंध में किसी प्रकार के उठाए गए कदमों के बारे में सूचित करें।

उल्लेखनीय है कि ममता बनर्जी सीएए-एनआरसी के खिलाफ लगातार आंदोलन कर रही हैं, उन्होंने भाजपा के खिलाफ विपक्षी दलों को साथ आने का आह्वान किया है। कोलकाता में वे 11 दिनों में पांच बार सड़क पर उतर कानून का विरोध कर चुकी हैं और अब वे जिलों का रूख कर रही हैं। उनका कहना है कि आजादी के बाद नागरिकों के हित में यह उनका फिर से आजादी के लिए आंदोलन है और वे अपने जीते जी इसे बंगाल में लागू नहीं होने देंगी। 

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस