राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने देश में कोरोना की संभावित तीसरी लहर को लेकर सोमवार को कहा कि राज्य सरकार इससे निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है। राज्य सरकार बच्चों के लिए विशेष व्यवस्था कर रही है और बेडों की संख्या भी बढ़ाई जा रही है।दरअसल, कई एक्सपर्ट्स ने दावा किया है कि कुछ ही हफ्तों के बाद देश में कोरोना की तीसरी लहर दस्तक दे सकती है।

इस लहर में बड़ी संख्या में बच्चे प्रभावित हो सकते हैं।‌ मुख्यमंत्री ने इस दौरान दावा किया कि राज्य में कोरोना वायरस के मामलों में काफी कमी आई है। राज्य सचिवालय नवान्न में संवाददाता सम्मेलन के दौरान ममता ने कहा कि चुनाव के समय में कोरोना संक्रमण की दर 32 फीसद पर पहुंच गया था, लेकिन धीरे-धीरे अब यह घटकर चार फीसद पर आ गया है। उन्होंने कहा कि कुछ जिलों से अब दैनिक संक्रमण के मामले सात- आठ आ रहे हैं। हालांकि उत्तर 24 परगना जिले को लेकर उन्होंने चिंता जताई और कहा कि सबसे ज्यादा मामले यहीं से आ रहे हैं।ममता ने कहा कि इस पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है।मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य में अभी तक दो करोड़ कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

ममता का निशाना, यूपी से अनेक शव बहकर आए हैं मालदा

इस दौरान ममता ने भाजपा का नाम लिए बिना उसपर निशाना साधते हुए कहा कि मालदा जिले में गंगा से कई सारी डेड बॉडीज मिली हैं, जो कि उतर प्रदेश व दूसरे राज्यों से बहकर आईं हैं। इन डेड बॉडीज का हमने सम्मानपूर्वक अंतिम संस्कार करवाया है। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि शवों के बहकर आने से गंगा का जल भी दूषित हो रहा है।उन्होंने यह भी कहा कि 26 जून को राज्य में एक हाई टाइड आने वाला है।

Edited By: Vijay Kumar