-चार दिवसीय बुनकर मेला व पाट प्रदर्शनी का किया उद्घाटन

-टेक्सटाइल सचिव ने कहा मंत्रालय कर रहा बुनकरों की आय बढ़ाने की कोशिश

जागरण संवाददाता, कोलकाता : केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने सोमवार को कहा कि जूट उत्पादों और जूट से बने विविध वस्तुओं के निर्यात में पिछले पाच वषरें में 24 फीसद की वृद्धि हुई है। महानगर के ओल्ड करेंसी बिल्डिंग में मंत्रालय के बुनकर मेला व पाट पदर्शनी का उद्घाटन करने पहुंची ईरानी ने कहा कि 2014 से हम आज के दिन जूट की विरासत का जश्न मनाते हैं। हमने जूट उत्पादों और विविध उत्पादों के निर्यात में 24 फीसद की वृद्धि दर्ज की है। इरानी ने कहा कि जूट उद्योग को सरकार की ओर से कहा जा रहा है कि किसानों व मजदूरों के कल्याण की दिशा में कार्य करें। बता दें कि इस चार दिवसीय आयोजन में 14 देशों के प्रतिनिधि और 70 से अधिक खरीदार भाग ले रहे हैं।

वहीं, इस अवसर पर, टेक्सटाइल सचिव राघवेन्द्र सिंह ने कहा कि मंत्रालय बुनकरों की आय बढ़ाने के तरीकों और साधनों को खोजने की कोशिश कर रहा है और उनके मार्जिन को बढ़ाने के लिए उन्हें वस्त्र निर्माताओं के साथ जोड़ने की भी कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि मंत्रालय देश के 40 जिलों में बुनकरों और शिल्पकारों को कई प्रकार से सहायता पहुंचा रहा है। सिंह ने बताया कि केंद्रीय महिला व बाल विकास मंत्रालय तथा कुछ अन्य सम्बद्ध पक्षों की साझेदारी में वस्त्र मंत्रालय ने पहल की है। इसके तहत पाट सामग्री से अत्यन्त किफायती सैनिटरी नैपकिन का उत्पादन व आपूर्ति की जाएगी ताकि महिलाओं को माहवारी में प्रयुक्त होने वाला स्वच्छ साधन मामूली खर्च पर उपलब्ध हो सके।