राज्य ब्यूरो, कोलकाता : राज्य सरकार के सहयोग से इस बार कोलकाता के सिंथी सर्कस मैदान में पटाखा मेले का आयोजन होगा। पश्चिम बंग आतिशबाजी उन्नयन समिति ने फंड की कमी का हवाला देते हुए पहले इस साल पटाखा मेले का आयोजन नहीं करने का फैसला किया था लेकिन राज्य सरकार के उच्च प्रशासनिक अधिकारियों के साथ गत शनिवार को हुई बैठक के बाद उन्होंने अपना फैसला बदल लिया।

बैठक में राज्य के मुख्य सचिव हरिकृष्ण द्विवेदी व गृह सचिव बीपी गोपालिका के साथ पश्चिम बंग आतिशबाजी उन्नयन समिति के चेयरमैन बाबला राय शामिल हुए। बैठक के बाद बाबला राय ने बताया कि शहीद मीनार के पास मैदान में पटाखा मेला लगाने में काफी खर्च आता था। वह जगह सेना के अधीन है इसलिए सेना को किराए के रूप में काफी रुपये देने पड़ते थे। फंड की कमी के कारण इस बार समिति ने पटाखा मेला नहीं लगाने का निर्णय लिया था लेकिन राज्य सरकार के सहयोग के बाद अब सिंथी सर्कस मैदान में इसका आयोजन किया जाएगा।

गौरतलब है कि 1998 से शहीद मीनार के पास स्थित मैदान में पटाखा मेला का आयोजन होता आ रहा है लेकिन इस बार एक से पांच नवंबर तक उत्तर कोलकाता के सिंथी सर्कस मैदान में इसका आयोजन होगा। राज्य सरकार की तरफ से आतिशबाजी बाजार के आयोजन के लिए समिति को वहां जगह प्रदान की जा रही है।

गौरतलब है कि कोरोना महामारी के कारण पिछले साल पटाखा मेले का आयोजन नहीं हो पाया था। इस बार सेना की तरफ से शहीद मीनार के पास पटाखा मेले के आयोजन की अनुमति दी गई थी लेकिन फंड की कमी के कारण समिति ने पहले इसका आयोजन नहीं करने का फैसला किया था।

Edited By: Vijay Kumar